अम्बाती रायडू

2 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें राजनीति से टीम से बाहर किया गया

  • भारतीय टीम में कई बार असहमति जताने वाले खिलाड़ी को तवज्जो नहीं मिलती
  • दिग्गज खिलाड़ी टीम में आए और खेलकर गए और कुछ खिलाड़ी गंदी राजनीति का शिकार हुए
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 27 Sep 2020, 18:21 IST

Advertisement
Ad

भारतीय टीम में आने के लिए हर खिलाड़ी कड़ी मेहनत करता है और टीम में आने के बाद बेहतरीन खेल के दम पर लम्बे समय तक खेलने का प्रयास करता है। भारतीय टीम में खेलते हुए कई बेहतरीन खिलाड़ी हुए हैं और अपने प्रदर्शन ला लोहा भी मनवाया है। कुछ खिलाड़ी ऐसे रहे हैं जिन्होंने भारतीय टीम में लम्बे समय तक क्रिकेट खेला और कई खिलाड़ी ऐसे भी रहे हैं जिन्हें ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला।

भारतीय टीम के कुछ दिग्गज खिलाड़ी ऐसे रहे हैं उन्हें भारतीय टीम में बढ़िया खेल के बाद भी टीम में शामिल नहीं किया गया। अंदरूनी राजनीति का शिकार होने के बाद उन्हें टीम में जगह नहीं मिली। हर जगह राजनीति की तरह क्रिकेट में भी राजनीति होती रही है और उनके शिकार कुछ खिलाड़ी हुए हैं। भारतीय टीम में शामिल होने के लिए खिलाड़ी का प्रदर्शन पैमाना होना चाहिए लेकिन आपसी मनमुटाव को टीम में शामिल करने का पैमाना मानना क्रिकेट और भारतीय टीम दोनों का ही भला नहीं कर सकता है। खिलाड़ी के बयानों या असहमति को प्रतिष्ठा का सवाल बनाकर उसे टीम से बाहर का रास्ता दिखा देना कहीं से भी उचित नहीं समझा जा सकता है। भारतीय टीम में ऐसा हुआ है और दो धाकड़ खिलाड़ियों की चर्चा यहाँ की गई है जिन्हें राजनीति करके टीम से बाहर निकाल दिया गया।

यह भी पढ़ें: 5 भारतीय खिलाड़ी जिन्होंने सबसे कम उम्र में टेस्ट डेब्यू किया था

भारतीय टीम के दो खिलाड़ी गंदी राजनीति के शिकार हुए

गौतम गंभीर

गौतम गंभीर

गौतम गंभीर भारत के लिए टी20 और वनडे वर्ल्ड कप के सफल बल्लेबाज रहे हैं। 2011 के बाद उन्हें ज्यादा मौका नहीं मिला और टेस्ट क्रिकेट में भी कुछ मौकों पर उन्हें टीम में शामिल किया गया। अकसर यह माना जाता रहा है कि कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के साथ विवादास्पद रिश्तों के चलते उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया और फिर शामिल नहीं किया गया। गौतम गंभीर भारत के धाकड़ बल्लेबाजों में से एक थे।

Advertisement
Ad
1 / 2 Next
Published 27 Sep 2020, 18:21 IST
 
 
 
×