पुणे स्टेडियम

3 क्रिकेट स्टेडियम जहाँ भारत और इंग्लैंड सीरीज के सभी मैच खेले जाएंगे

Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 25 Jan 2021

बायो बबल में रहते हुए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की कल्पना शायद किसी ने नहीं की होगी। बायो बबल के बारे में कोरोना वायरस के बाद ही कई लोगों ने सुना होगा और इसके लिए इंटरनेट पर भी पढ़ा होगा कि वास्तव में यह होता क्या है। धीरे धीरे लोगों और खिलाड़ियों को चीजें समझ में आई और बायो बबल में सीरीज होने लगी। भारतीय जमीन पर पहली बार बायो बबल में अंतरराष्ट्रीय सीरीज इंग्लैंड की टीम के आने पर होगी। इंग्लैंड की टीम भारत दौरे पर आकर हर प्रारूप में खेलेगी। शुरुआत टेस्ट सीरीज से होगी और टी20 और वनडे सीरीज के साथ खत्म हो जाएगी।

Advertisement
Ad

ऑस्ट्रेलिया से लौटकर आने के बाद भारतीय टीम को कुछ समय के लिए बायो बबल से राहत जरुर मिली है लेकिन जल्दी ही टीम क्वारंटीन होगी और एक बार फिर से बायो बबल का सिलसिला शुरू हो जाएगा। कोरोना वायरस के खतरे से निपटने के लिए बीसीसीआई ने सुरक्षा मानक अपनाए हैं। उनमें से एक स्टेडियम का चयन भी है। सुरक्षा दृष्टिकोण से भारत और इंग्लैंड के बीच सीरीज में ज्यादा स्टेडियम इस्तेमाल नहीं किये जाएंगे। हर प्रारूप को मिलकर कुल 12 मुकाबले खेले जाएंगे लेकिन इनके लिए तीन ही स्टेडियम निर्धारित किये गए हैं। इन स्टेडियमों के बारे में यहाँ बताया गया है।

एमए चिदम्बरम स्टेडियम, चेन्नई

चेपॉक, चेन्नई

इस स्टेडियम पर भारत और इंग्लैंड के बीच शुरुआती दो टेस्ट मुकाबले खेले जाएंगे। पहला टेस्ट 5 फरवरी और दूसरा टेस्ट मैच 13 फरवरी से शुरू होगा। यह स्टेडियम ईडन गार्डंस के बाद देश का दूसरा सबसे पुराना स्टेडियम है जिसकी स्थापना 1916 में हुई थी। दर्शक क्षमता की बात करें तो यहाँ 50 हजार दर्शक बैठकर मैच देख सकते हैं लेकिन कोरोना वायरस के कारण यहाँ दर्शकों को आने की अनुमति नहीं दी गई है। चेन्नई में स्थित एमए चिदम्बरम स्टेडियम तमिलनाडु क्रिकेट एसोसिएशन के अंतर्गत आता है।

Advertisement
Ad
1 / 3 Next
Published 25 Jan 2021, 20:00 IST
 
See more comments
 
 
×