×

3 बल्लेबाज़ जो वर्ल्ड कप 2019 में अम्बाती रायडू की जगह भारतीय टीम में आ सकते हैं

अम्बाती रायडू की जगह आकर ये तीनों बल्लेबाज अपनी छाप छोड़ सकते हैं

Fambeat Hindi
ANALYST
Timeless

Advertisement
Ad

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए तीसरे एकदिवसीय मुकाबले मे भारत ने 230 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए सात विकेट से मैच जीता। महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव की चौथी विकेट की नाबाद साझेदारी ने भारत को 2-1 से श्रृंखला में जीत दिलाई। भारत के सलामी बल्लेबाजों ने संभलकर शुरुआत की लेकिन उसे एक बड़े स्कोर में बदलने में नाकाम रहे। रोहित शर्मा के जल्दी आउट होने के बावजूद भी धवन और कोहली ने दूसरे विकेट के लिए अच्छी साझेदारी निभाते हुए, भारत को मैच में बनाए रखा।  

पहले दो एकदिवसीय में नाकाम रहे अंबाती रायडू को मेलबर्न में बाहर बैठना पड़ा। नंबर 4 के स्थान का प्रश्न, जो एशिया कप से पहले भारतीय प्रबंधन के लिए एक परेशानी का सबब बना हुआ था, विश्व कप से कुछ महीने पहले वह उलझन फिर से आ खड़ी हुई है। रायडू जो नंबर 4 के लिए सही फिट बैठते दिखाई दे रहे थे, लेकिन वह अपने प्रदर्शन से दोनों मैचों में उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पाए। यही कारण था की विराट कोहली ने उन्हें तीसरे और आखिरी वनडे से बाहर किया और उनकी जगह केदार जाधव को शामिल किया।  

भारत को एक महीने में अपने अंतिम एकादश को आखिरी रूप देना होगा क्योंकि आईसीसी वर्ल्ड कप केवल चार महीनों में शुरू हो जायेगा। कई होनहार क्रिकेटर, अगर मौका दिया जाए तो नंबर 4 पर प्रभाव डाल सकते हैं।

आईये नजर डालें तीन संभावित खिलाड़ियों पर जो नंबर 4 की जगह के लिए उचित े है:


#3. शुभमन गिल


केएल राहुल की जगह न्यूजीलैंड दौरे के लिए भारतीय टीम का हिस्सा बने होनहार और युवा बल्लेबाज शुभमन गिल, मध्यक्रम की गुत्थी सुलझा सकते हैं। शुभमन ने आईपीएल में अपनी फ्रैंचाइज़ी कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हुए, पिछले संस्करण में 33.83 की औसत से 203 रन बनाए थे। वह अनुभवहीन हो सकते है, लेकिन पर्याप्त मौके दिए जाने पर ही उनकी कीमत साबित होगी। मोहाली से आए इस क्रिकेटर ने वर्तमान रणजी टूर्नामेंट की दस पारियों में 98.75 की औसत से 790 रन बनाये।

गिल को 2018 अंडर -19 टूर्नामेंट में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया और अब वह अपनी प्रतिभा को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर साबित करने के लिए मौके के इंतज़ार में हैं । उन्होंने प्रथम श्रेणी के नौ मैचों में 77.78 की औसत से 1089 रन बना अपना सीनियर क्रिकेट जगत में शानदार आगाज किया है। गिल रोटेटर और स्ट्रोक प्लेयर का रोल बखूबी अदा कर सकते हैं जो विश्व कप में भारत की नंबर 4 की तलाश पूरी कर सकता है।

Advertisement
Ad

प्रथम श्रेणी: मैच- 9, रन- 1089, औसत- 77.78, सर्वश्रेष्ठ स्कोर- 268

टी 20: मैच- 13, रन- 203, औसत- 33.83, सर्वश्रेष्ठ स्कोर- 57

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Advertisement
Ad
1 / 3
Published 19 Jan 2019, 10:29 IST