×

वर्ल्ड कप 2019 : लाइमलाइट से दूर रहे यह 3 खिलाड़ी जो भारत को विश्वकप जिता सकते हैं

ये खिलाड़ी भारतीय टीम के वर्ल्ड कप अभियान में काफी अहम साबित हो सकते हैं

akhilesh.tiwari19
ANALYST
Modified 20 Dec 2019, 23:27 IST

भारतीय टीम
Advertisement
Ad

क्रिकेट के महाकुंभ यानी विश्वकप 2019 का आयोजन इंग्लैंड में हो रहा है और इस विश्वकप में शामिल सभी दस टीमें अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने में जुटी हुई हैं, जिससे वह खिताब जीत सकें। हालांकि टूर्नामेंट की शुरुआत से पहले ही यह कहा जा रहा था कि इस बार के खिताब की प्रबल दावेदार चार टीमें होंगी, जिनमें भारत, इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया और पाकिस्तान का नाम शामिल है।

हालांकि विश्वकप जीतकर कौन सी टीम घर वापस जाएगी या फिर इंग्लैंड अपनी ही सरजमीं पर विश्वकप खिताब जीतेगी, यह तो आने वाला समय ही बताएगा। वहीं भारतीय टीम एक बार फिर से साल 2011 वाला समय दोहराना चाहेगी और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी को शानदार विदाई देना चाहेगी।

भारत के लिए टूर्नामेंट में आगे की राह मुश्किल जरूर है लेकिन नामुमकिन नहीं है। भारत के पास शीर्ष क्रम में रोहित शर्मा, शिखर धवन, विराट कोहली और केएल राहुल जैसे बल्लेबाज हैं, तो वहीं गेंदबाजी में भी यजुवेंद्र चहल , कुलदीप यादव, जसप्रीत बुमराह और भुवनेश्वर कुमार शामिल हैं।

हालांकि टीम में कुछ ऐसे खिलाड़ी भी शामिल हैं, जिन्हें उनकी प्रतिभा से कम आंका गया लेकिन वे भारतीय टीम को विश्वकप जिताने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकते हैं। ये खिलाड़ी टीम के लिए हमेशा से ही अच्छा प्रदर्शन करते रहे हैं लेकिन कभी लाइमलाइट में नहीं आ सके। जानिए कौन से हैं वो 3 अंडररेटेड खिलाड़ी, जो भारतीय टीम को विश्वकप जिता सकते हैं।

#3 केदार जाधव

केदार जाधव

विश्वकप में शामिल भारतीय टीम की ओर से खेल रहे केदार जाधव एक ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होंने पिछले कुछ समय से टीम के लिए लगातार बेहतरीन प्रदर्शन किया है। जाधव बल्लेबाजी के साथ गेंदबाजी में भी प्रतिभा के धनी हैं और विषम परिस्थितियों में टीम के लिए अमूल्य योगदान देते रहे हैं। केदार जाधव ने अपने छोटे से वनडे करियर में काफी अच्छा प्रदर्शन किया है।

Advertisement
Ad

यह भी पढ़ें : वर्ल्ड कप इतिहास में शानदार प्रदर्शन करने वाले बाएं हाथ के तीन सबसे सफल तेज गेंदबाज

जाधव ने अपने वनडे करियर में 43.48 की शानदार औसत और 102.53 की शानदार स्ट्राइक रेट से 1174 रन बनाए हैं। वहीं गेंदबाजी में भी उन्होंने 36 पारियों में 27 विकेट चटकाए हैं। उनके इस प्रदर्शन को देखकर यह कहा जा सकता है कि वह कभी भी मैच पलटने की क्षमता रखते हैं। हालांकि इस प्रदर्शन के बावजूद जाधव को वह सराहना नहीं मिली, जिसके वह हकदार थे। वह इस टूर्नामेंट में भारत को विश्वकप जिताने में अहम रोल अदा कर सकते हैं। 

Advertisement
Ad
1 / 3
Published 14 Jun 2019, 14:09 IST