×

For Faster Reading Experience
Download Sportskeeda App!

Download Now
Advertisement
Ad

4 कारण क्यों 2003 वर्ल्ड कप अब तक का सर्वश्रेष्ठ टूर्नामेंट रहा है

जानते हैं उन चार कारणों के बारे में जिनकी वजह से विश्व कप 2003 अब तक का सर्वश्रेष्ठ विश्व कप था

आशीष कुमार
ANALYST
Timeless
Advertisement
Ad

2003 का क्रिकेट वर्ल्ड कप दक्षिण अफ्रीका, जिम्बाब्वे और केन्या में आयोजित किया गया था। यह इस ब्लॉकबस्टर टूर्नामेंट का आठवां संस्करण था। 1999 विश्व कप फाइनल में पाकिस्तान को हराकर विश्व विजेता बनने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम ख़िताब की प्रबल दावेदार थी। इस विश्व कप में पहली बार 14 टीमें हिस्सा ले रही थीं।

विश्व कप 2003 के दौरान कुल 54 मैच खेले गए। टीमों को दो समूहों में विभाजित किया गया और प्रत्येक समूह की शीर्ष तीन टीमों ने सुपर सिक्स चरण में जगह बनाई। टूर्नामेंट में कई उतार-चढ़ाव आए क्योंकि मेज़बान दक्षिण अफ्रीका को ग्रुप स्टेज में ही बाहर होना पड़ा। वे श्रीलंका से डकवर्थ लुईस नियम के तहत महज़ एक रन से हार कर इस टूर्नामेंट से बाहर हो गए थे। 

इंग्लैंड, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज जैसी दिग्गज टीमें भी ग्रुप स्टेज में हार कर बाहर हो गईं। विश्व कप 2003 के फाइनल में गत चैंपियन ऑस्ट्रेलिया ने भारत को हराकर अपने खिताब का बचाव किया।

Advertisement
Ad

तो आइये जानते हैं उन चार कारणों के बारे में जिनकी वजह से यह अब तक का सर्वश्रेष्ठ विश्व कप था:

#4. सचिन तेंदुलकर का ज़बरदस्त प्रदर्शन 

विश्व कप 2003 सचिन तेंदुलकर के करियर का सर्वश्रेष्ठ विश्व कप था। लिटिल मास्टर ने इस टूर्नामेंट में अपने बल्ले से सर्वाधिक रन बनाए थे।

Advertisement
Ad

टूर्नामेंट की शुरूआत में सचिन ने मेज़बान जिम्बाब्वे के खिलाफ 91 गेंदों पर 81 रनों की पारी खेली और इसके बाद नामीबिया के खिलाफ शानदार 151 रन बनाए जो कि विश्व कप में उनका अब तक का सर्वोच्च स्कोर है। इसके अलावा,उन्होंने इंग्लैंड के खिलाफ अर्धशतक और पाकिस्तान के खिलाफ 98 रनों की मैच जिताऊ पारी खेली, जो विश्व कप की उनकी सबसे महत्वपूर्ण पारी थी।

तेंदुलकर ने इस विश्व कप में लगातार चार बार 50 से ज़्यादा स्कोर बनाने का कारनामा भी किया। उन्होंने सुपर-सिक्स मैच में श्रीलंका के खिलाफ 97 और केन्या के खिलाफ सेमीफाइनल में 83 रन बनाकर भारत को फाइनल तक पहुंचाया था। चैंपियन बल्लेबाज ने इस विश्व कप में कुल 673 रन बनाकर 'प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट' का पुरस्कार जीता। यह अभी भी विश्व कप में किसी भी बल्लेबाज़ी द्वारा बनाये सर्वाधिक रन हैं। 

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

1 / 4
Advertisement
Ad
वर्ल्ड कप इतिहास: 4 बल्लेबाज जो इस विश्व कप में सचिन तेंदुलकर के 673 रनों का विश्व रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं
भारतीय टीम के वर्ल्ड कप जर्सी का अभी तक का सफर
वर्ल्ड कप 2019: 5 बल्लेबाज जो इस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बना सकते हैं 
वर्ल्ड कप 2019: टूर्नामेंट में अब तक के 3 सबसे करीबी मैच 
वर्ल्ड कप इतिहास में सबसे ज्यादा मैन ऑफ द मैच प्राप्त करने वाले टॉप 5 बल्लेबाज 
वर्ल्ड कप रिकॉर्ड: भारत की तरफ से सर्वाधिक विकेट लेने वाले 5 गेंदबाज
वर्ल्ड कप 2019: टूर्नामेंट के लो-स्कोरिंग होने के 4 बड़े कारण
वर्ल्ड कप रिकॉर्ड: सबसे ज्यादा बार सेमीफाइनल में जगह बनाने वाली टीमों की लिस्ट 
3 कारण जो बताते हैं कि क्यों विराट कोहली को वर्ल्ड कप में नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी नहीं करनी चाहिए
5 कारण क्यों 2019 वर्ल्ड कप टीम में ऋषभ पंत का होना जरूरी है?
Add a Comment