5 कारण जिससे भारतीय टीम महेंद्र सिंह धोनी के बिना विश्वकप नहीं जीत सकती

  • ये सभी कारण वास्तव में काफी वाजिब हैं
varsha
ANALYST
Timeless

#4 अनुभव

Advertisement
Ad

धोनी अनुभव के मामले में वर्तमान भारतीय टीम में मौजूद किसी भी अन्य क्रिकेटर से काफी आगे हैं। महेंद्र सिंह धोनी ने भारत को कई असंभव मुकाबलों में जीत दिलाई है। कठिन से कठिन समय में भी धोनी काफी शांत रहते हैं जो इनका सबसे बड़ा गुण है। महेंद्र सिंह धोनी अभी तक 90 टेस्ट, 341 वनडे मुकाबले और 98 टी-20 मुकाबले खेल चुके हैं। मैच के दौरान दबाव का सामना करते हुए महेंद्र सिंह धोनी ने कई मौकों पर भारतीय टीम को जीत दिलाई है।

#3 शानदार बल्‍लेबाजी

धोनी साधारण रूप से अपनी कप्तानी के लिए जाने जाते हैं, किंतु धोनी इसके साथ ही काफी अच्छे बल्लेबाज भी हैं। पिछले कुछ मुकाबलों में धोनी ने अपना नियमित अच्छा प्रदर्शन देकर इस बात को सत्य भी किया है। महेंद्र सिंह धोनी भारत की ओर से वनडे मुकाबलों में सर्वाधिक छक्के लगाने वाले दूसरे बल्लेबाज है। महेंद्र सिंह धोनी भारतीय टीम में एक फिनिशर के रूप में बल्लेबाजी करते हैं, मूलतः महेंद्र सिंह धोनी भारतीय टीम की इनिंग में पांचवें या 6वें नंबर में आते हैं। धोनी ने टेस्ट मुकाबलों में 4876 रन, वनडे मुकाबलों में 10500 रन और T20 मुकाबलों में 1617 रन बनाए हैं।

Advertisement
Ad
2 / 3 Next
Published 14 Mar 2019, 14:17 IST
 
See more comments
 
 
×