दिनेश कार्तिक

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अंतिम गेंद पर छक्के से जीत दिलाने वाले बल्लेबाज

  • अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बल्लेबाजों ने हारे हुए मैच में टीम को अंतिम समय में जीत दिलाई है
  • क्रिकेट में कई बार आश्चर्यजनक प्रदर्शन खिलाड़ियों द्वारा होते देखा गया है
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
Modified 03 Jul 2020, 19:39 IST

क्रिकेट में कुछ भी घटित हो सकता है और उसके लिए समय भी नहीं देखा जाता है। महान अनिश्चितताओं का खेल भी शायद क्रिकेट को इसलिए कहा जाता है। हारे मैच जीत में बदल जाते हैं और जीते हुए मुकाबले हार में तब्दील हो जाते हैं इसलिए यह क्रिकेट को आखिरी गेंद तक देखा जाता है और रोमांचल मैचों में तो यह चीज निश्चित रूप से होती ही है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कई मौकों पर बल्लेबाजों ने विपक्षी टीमों से मैच छीने हैं।

Advertisement
Ad

अंतरराष्ट्रीय मैचों में कई बार ऐसा देखने को मिला है जब क्रिकेट मुकाबले अंत तक गए हैं। बल्लेबाजों ने फील्डिंग टीम के पक्ष में जाते हुए मैच को भी अपने बल्ले से खुद के पक्ष में मोड़ दिया। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में ऐसा कई बार देखने को मिला है जब बल्लेबाज ने अंतिम गेंद पर टीम को जीत दिलाई हो। कई बार गेंद को सीमा रेखा से बाहर भेजकर जीत दिलाई गई तथा कई बार दौड़कर रन लेते हुए भी टीम को जीत मिली है। ख़ास बात यह रही कि कुछ बल्लेबाजों ने अंतिम गेंद पर छक्का जड़कर अपनी टीम को जीत दिलाई। इस आर्टिकल में ऐसे ही छह बल्लेबाजों का जिक्र किया गया है जिन्होंने आखिरी गेंद पर छक्के से अपनी टीम को जीत दिलाई।

यह भी पढ़ें: क्रिकेट में सबसे लम्बा छक्का लगाने वाले 3 बल्लेबाज

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में अंतिम गेंद पर छक्के से जीत दिलाने वाले बल्लेबाज

जावेद मियाँदाद

जावेद मियाँदाद

शारजाह में 1986 में खेलते हुए जावेद मियाँदाद ने चेतन शर्मा की आखिरी गेंद पर छक्का जड़कर पाकिस्तान को भारत के खिलाफ जीत दिलाई थी। इस मैच में पाकिस्तान की टीम 246 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही थी। जावेद मियाँदाद के इस छक्के को आज भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में याद किया जाता है। दोनों देशों के बीच इस छक्के का प्रभाव कई सालों तक देखने को मिला।

लांस क्लूजनर

Advertisement
Ad
लांस क्लूजनर

नैपियर में न्यूजीलैंड के खिलाफ 192 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए दक्षिण अफ्रीका के लिए लांस क्लूजनर ने 1999 में अंतिम गेंद पर छक्का जड़ा था। यह मुकाबला 40 ओवर का कर दिया गया था। डियोन नैश की गेंद पर क्लूजनर ने छक्का जड़ा। हालांकि दक्षिण अफ्रीका को महज चार रनों की जरूरत थी लेकिन बल्लेबाज ने छक्का जड़ दिया।

Advertisement
Ad
1 / 3 Next
Published 03 Jul 2020, 19:37 IST
 
 
 
×