क्रिकेट
Ad

Asia Cup 2018: भारत और पाकिस्तान के खिलाफ हांगकांग के मुकाबले एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय होंगे

हांगकांग का सामना 16 सितम्बर को पाकिस्तान और 18 सितम्बर को भारत से होगा

एशिया कप 2018 के लिए क्वालीफाई करने वाले हांगकांग के ग्रुप स्टेज के दोनों मैचों को एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय का दर्ज़ा देने का फैसला लिया गया है। गौरतलब है कि हांगकांग के पास फ़िलहाल एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय खेलने का दर्ज़ा हासिल नहीं है, लेकिन एशिया कप क्वालीफ़ायर के फाइनल में उन्होंने यूएई को हराकर एशिया कप के प्रमुख टूर्नामेंट के लिए क्वालीफाई किया।

आईसीसी ने हांगकांग के मैचों को एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय का दर्ज़ा देने का फैसला इसलिए लिए है ताकि फैंस को एशिया कप के दौरान कोई गलतफहमी न हो। एशिया कप के ग्रुप ए में हांगकांग का सामना 16 सितम्बर को पाकिस्तान और 18 सितम्बर को भारत से होगा। यह दोनों मुकाबले दुबई में खेले जाएंगे।
Ad

आईसीसी के चीफ एग्जीक्यूटिव डेव रिचर्डसन ने कहा कि आईसीसी ने एशिया कप के सभी मैचों को अंतरराष्ट्रीय का दर्ज़ा देने का फैसला खेल को बढ़ावा देने के लिए लिया है। उन्होंने यह भी कहा कि स्थिति को और साफ़ करने के लिए आईसीसी ने यह भी फैसला लिया है कि ऐसे सभी टूर्नामेंट के मैच अब अंतरराष्ट्रीय होंगे, जहाँ कुछ टीमों के पास अंतरराष्ट्रीय खेलने का अधिकार है और कुछ के पास नहीं। ऐसे टूर्नामेंट में एशिया कप और विश्व कप क्वालीफ़ायर प्रमुख है।

रिचर्डसन के मुताबिक ऐसे टूर्नामेंट उन टीमों के लिए भी खुले हैं, जिनके पास अंतरराष्ट्रीय खेलने का दर्ज़ा नहीं है और ऐसे में सभी मैचों को अंतरराष्ट्रीय का दर्ज़ा देने से न सिर्फ उस टूर्नामेंट को बल्कि उन टीमों को भी फायदा मिलेगा, जिन्होंने इन टूर्नामेंट में खेलने के लिए क्वालीफाई किया हो।

गौरतलब है कि इसी साल मार्च में हुए आईसीसी विश्व कप क्वालीफ़ायर के सभी मैच अंतरराष्ट्रीय नहीं थे और ऐसे में एक ही टूर्नामेंट में अंतरराष्ट्रीय और लिस्ट ए, दोनों तरह के मैच खेले गए।
Ad


एशिया कप की शुरुआत 15 सितम्बर से होगी और पहले दिन दुबई में बांग्लादेश का सामना श्रीलंका से होगा। ग्रुप ए और ग्रुप बी की टॉप दो टीमें सुपर फोर में खेलेंगी, जिसमें से टॉप दो टीम फाइनल के लिए क्वालीफाई कर जाएगी। फाइनल मुकाबला 28 सितम्बर को दुबई में खेला जाएगा।
Ad