×

AUS vs IND, पहला टेस्ट: मुश्किल लक्ष्य के सामने चौथे दिन स्टंप्स के समय ऑस्ट्रेलिया - 104/4, भारत के पास जीत का बेहतरीन मौका

पहले टेस्ट के चौथे दिन का रिपोर्ट

निशांत द्रविड़
FEATURED WRITER
Timeless

एडिलेड टेस्ट के चौथे दिन भारतीय टीम ने मैच पर अपनी पकड़ बेहद मजबूत कर ली है। दूसरी पारी में भारतीय टीम ने 307 रन बनाये और ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 323 रनों का लक्ष्य दिया। मुश्किल लक्ष्य के जवाब में मेजबान टीम ने चौथे दिन स्टंप्स तक 49 ओवर में चार विकेट के नुकसान 104 पर रन बना लिए थे और उन्हें जीत के लिए अभी 219 रनों की और जरूरत है। भारत के पास ऑस्ट्रेलिया में लगभग 11 साल बाद टेस्ट जीतने का सुनहरा मौका है। 

Advertisement
Ad

पहला सत्र:

तीसरे दिन के स्कोर 151/3 से आगे खेलते हुए भारतीय टीम ने चौथे दिन लंच तक 95 ओवर में पांच विकेट के नुकसान पर 260 रन बना लिए थे। भारत ने चौथे दिन पहले सत्र में 34 ओवर बल्लेबाजी की और दो विकेट खोकर 109 रन बनाये। कल के नाबाद बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा और अजिंक्य रहाणे ने अपने-अपने अर्धशतक पूरे किये और चौथे विकेट के लिए 87 रनों की बेहतरीन साझेदारी निभाकर टीम को मैच में काफी आगे कर दिया।

पहली पारी में शतक लगाने वाले चेतेश्वर पुजारा ने दूसरी पारी में भी 71 रनों का महत्वपूर्ण योगदान दिया। उन्हें 88वें ओवर में नाथन लायन ने 234 के स्कोर पर आउट किया। इसके तुरंत बाद रोहित शर्मा सिर्फ एक रन बनाकर आउट हुए और उन्हें भी नाथन लायन ने आउट किया। अजिंक्य रहाणे और ऋषभ पंत ने लंच तक टीम को और कोई झटका नहीं लगने दिया और भारत की बढ़त 275 रनों की हो गई है। पहले सत्र के बाद रहाणे 57 और ऋषभ पंत 10 रन बनाकर नाबाद थे।

दूसरा सत्र:

लंच के बाद ऑस्ट्रेलिया ने वापसी की और भारतीय टीम 106.5 ओवर में 307 रन बनाकर ऑल आउट हो गई। भारत को कुल मिलाकर 322 रनों की बढ़त हासिल हुई और ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 323 रनों का लक्ष्य मिला। लंच के बाद ऋषभ पंत ने धुआंधार शुरुआत की और नाथन लायन के एक ही ओवर में उन्होंने 18 रन बनाये। हालाँकि 282 के स्कोर पर ऋषभ पंत 16 गेंदों में 28 रन बनाकर आउट हुए और उसके बाद भारतीय पारी लड़खड़ा गई। भारत के आखिरी 5 विकेट सिर्फ 25 रनों के अंदर गिर गए। नाथन लायन ने 6 और मिचेल स्टार्क ने एक विकेट लिया। अजिंक्य रहाणे ने 70 रनों का अहम योगदान दिया। अश्विन 5 और मोहम्मद शमी एवं इशांत शर्मा ख़ाता खोले बिना आउट हो गए। जसप्रीत बुमराह खाता खोले बिना नाबाद रहे।

मुश्किल लक्ष्य के जवाब में ऑस्ट्रेलिया ने सम्भली हुई शुरुआत की, लेकिन चाय से ठीक पहले अश्विन ने आरोन फिंच (11) को 28 के स्कोर पर आउट करके ऑस्ट्रेलिया को पहला झटका दिया। चाय के समय ऑस्ट्रेलिया का स्कोर 12 ओवर में 28/1 था और मार्कस हैरिस 14 रन बनाकर नाबाद थे।

Advertisement
Ad

तीसरा सत्र:

चाय के बाद भारतीय टीम ने स्टंप्स तक ऑस्ट्रेलिया को तीन और झटके दिए। तीसरे सत्र में ऑस्ट्रेलिया ने 37 ओवर में तीन विकेट के नुकसान पर 76 रन बनाये। स्टंप्स के समय शॉन मॉर्श 31 और ट्रैविस हेड 11 रन बनाकर नाबाद थे। भारत की तरफ से अश्विन और मोहम्मद शमी ने अभी तक दो-दो विकेट लिए हैं। मार्कस हैरिस 26, पीटर हैंड्सकॉम्ब 14 और उस्मान खवाजा 8 रन बनाकर आउट हुए।

टेस्ट के आखिरी दिन भारतीय टीम एक ऐतिहासिक जीत दर्ज़ करने के इरादे से उतरेगी। गौरतलब है कि ऑस्ट्रेलिया में भारत की आखिरी टेस्ट जीत 2008 में आई थी, जब पर्थ में भारतीय टीम को जीत मिली थी।

संक्षिप्त स्कोरकार्ड:

Advertisement
Ad

भारत: 250 एवं 307 (चेतेश्वर पुजारा 71, अजिंक्य रहाणे 70, नाथन लायन 6/122)

ऑस्ट्रेलिया: 235 एवं 104/4 (शॉन मार्श 31*, मोहम्मद शमी 2/15)


ऑस्ट्रेलिया-भारत टेस्ट सीरीज की सभी खबरों को पढ़ने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें

Advertisement
Ad
Published 09 Dec 2018, 13:10 IST