×

वर्ल्ड कप: इन 5 मौकों पर फेवरिट मानी जा रही टीम ने जीता खिताब

.वर्ल्ड कप शुरु होने से पहले इन टीमों को खिताब जीतने का प्रबल दावेदार माना गया

शारिक़ुल होदा Shariqul Hoda
ANALYST
Timeless

Advertisement
Ad

किसी भी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर का ख़्वाब होता है कि वो वर्ल्ड कप चैंपियन बने। वर्ल्ड कप की शुरुआत साल 1975 में हुई थी। तब से लेकर अब तक 11 बार इस टूर्नामेंट को आयोजित किया गया है। आख़िरी वर्ल्ड कप साल 2015 में खेला गया था। इस टूर्नामेंट के शुरू होने से पहले ये आंकलन किया जाता है कि कौन सी टीम चैंपियन बनने की प्रबल दावेदार है। इसका पता इस बात से लगाया जाता है कि टीम का मौजूदा फ़ॉर्म क्या है और टीम कितनी संतुलित है। इस पहलू को ध्यान में रखा जाता है कि मैच कहां खेला जाएगा और वहां के हालात कैसे होंगे। 

हांलाकि इस बात को पक्के यकीन से नहीं कहा जा सकता है कि अगला वर्ल्ड कप कौन सी टीम जीतेगी, फिर भी एक अंदाज़ा तो लगाया ही जा सकता है। हमेशा ऐसा नहीं होता कि दावेदार टीम ही वर्ल्ड कप जीते, कई बार वर्ल्ड कप में चौंकाने वाले नतीजे सामने आते हैं।1983 में किसी ने ये दावा नहीं किया था कि टीम इंडिया की झोली में वर्ल्ड कप ट्रॉफ़ी होगी। हांलाकि कई बार ऐसा भी हुआ है कि पसंदीदा टीम ने वर्ल्ड कप पर कब्ज़ा जमाया है, हम यहां ऐसे ही 5 मौकों के बारे में चर्चा करेंगे, जब दावेदार टीम ने वो कर दिखाया जिसकी पूरी उम्मीद थी।


#5 वेस्टइंडीज़, 1975

 1970 और 1980 के दशक में वेस्टइंडीज़ को क्रिकेट की दुनिया का पावरहाउस कहा जाता था। उस दौर में कैरिबियाई टीम को हराना बेहद मुश्किल था। साल 1975 में जब पहला क्रिकेट वर्ल्ड कप खेला गया था तब किसी को भी इस बात पर शक नहीं था कि वेस्टइंडीज़ की टीम ही ख़िताब पर कब्ज़ा जमाएगी।

उम्मीदों पर खरी उतरते हुए कैरिबियाई टीम ने ग्रुप में टॉप रैंक हासिल किया। वेस्टइंडीज़ के साथ ग्रुप में ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और श्रीलंका थे। वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल में वेस्टइंडीज़ ने न्यूज़ीलैंड को हराया। फिर क्लाइव लॉयड की टीम ने फ़ाइनल में ऑस्ट्रेलिया को 17 रन से मात दी और वर्ल्ड कप अपने नाम किया। 

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

1 / 3
Advertisement
Ad
Add a Comment