विश्व कप के लिए 15 की जगह 16 खिलाड़ियों का चयन होना चाहिए था: रवि शास्त्री

  • लगातार अच्छे प्रदर्शन की वजह से इंग्लैंड है विश्वकप का प्रबल दावेदार
Richa Gupta
ANALYST
Timeless

इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप के लिए भारतीय टीम का चयन हो गया है। विराट कोहली की अगुआई में भारतीय टीम उतरेगी। चयन के बाद टीम को लेकर अलग-अलग बयान आ रहे हैं। अब पूर्व भारतीय खिलाड़ी और वर्तमान कोच रवि शास्त्री ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने विश्व कप टीम में संभावित 15 की बजाए 16 खिलाड़ियों के चयन पर जोर दिया है। साथ ही जिन खिलाड़ियों का चयन नहीं हुआ है, उनको शास्त्री ने निराश न होने की सलाह दी है।

रवि शास्त्री ने कहा कि मैं विश्व कप टीम के चयन के मामलों में शामिल नहीं हुआ। अगर कोई विचार मेरे मन में आता है या कोई राय देनी होती है तो मैं सीधे कप्तान को अपनी बात बताता हूं। विश्व कप के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम चुनी जाने की अनुमति थी। अगर ऐसा न होता तो मैं 16 सदस्यीय टीम को चुनना पसंद करता। हमने इस बारे में आईसीसी को बताया था कि जब टूर्नामेंट लंबा होता है तो 16 खिलाड़ियों को रखना सही होता है लेकिन आदेश हमें 15 संभावित खिलाड़ियों को चुनने का ही मिला था। इस तरह जब 15 खिलाड़ियों का चयन होता है तो किसी न किसी का बाहर होना स्वाभाविक होता है। हालांकि, यह दुर्भाग्यपूर्ण है।

Advertisement
Ad

अब इस बात को लेकर बहस शुरू हो गई है कि चयनकर्ताओं ने अंबाती रायडू और ऋषभ पंत को टीम में शामिल क्यों नहीं किया। रवि शास्त्री ने कहा कि परिस्थितियों को देखते हुए नंबर चार का स्थान पूरी तरह से लचीला है। इस बार विश्व कप के प्रबल दावेदारों में रवि शास्त्री ने इंग्लैंड का नाम लिया। उन्होंने कहा कि इंग्लैंड पिछले दो साल से लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहा है। उसके पास बहुत से अनुभवी खिलाड़ी हैं। उनकी टीम में बल्लेबाजों और गेंदबाजों का बढ़िया संतुलन है। ऊपर से घरेलू मैदान में खेलने की वजह से वो ट्रॉफी के प्रमुख हकदार हैं। हालांकि, विश्व कप में कई ऐसी टीम हैं, जिनकी वजह से बड़ा उलटफेर हो सकता है। इस तरह के टूर्नामेंट में आपको हर मैच में अच्छा क्रिकेट खेलना होगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Advertisement
Ad
Published 19 Apr 2019, 12:14 IST
 
See more comments
 
 
×