×
रणजी ट्रॉफी 2019-20 Home रणजी ट्रॉफी 2019-20 शेड्यूल

रणजी ट्रॉफी

रणजी ट्रॉफी 2019-20


9 दिसंबर 2019 - 13 मार्च 2020


रणजी ट्रॉफी एक घरेलू क्रिकेट टूर्नामेंट है जो देश की शीर्ष राज्य क्रिकेट बोर्ड टीमों के बीच खेला जाता है। इस टूर्नामेंट में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का प्रतिनिधित्व करने वाले कई खिलाड़ी हिस्सा लेते हैं। यह प्रमुख प्रथम श्रेणी क्रिकेट टूर्नामेंट उन टीमों के बीच खेला जाता है जो क्षेत्रीय और राज्य क्रिकेट संघों का प्रतिनिधित्व करती हैं।


जुलाई 2018 में, बीसीसीआई द्वारा अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मिजोरम, मेघालय, नागालैंड, पुडुचेरी, सिक्किम और उत्तराखंड जैसी नई टीमों को रणजी ट्रॉफी में शामिल करने और इस साल चंडीगढ़ के शामिल होने से इस टूर्नामेंट में खेलने वाली कुल टीमों की संख्या अब 38 हो गई है। विदर्भ की टीम रणजी ट्रॉफी की मौजूदा चैंपियन हैं और इस प्रतिष्ठित टूर्नामेंट का 86वां संस्करण इस साल 9 दिसंबर से लेकर 13 मार्च 2020 तक खेला जायेगा।


इतिहास


रणजी ट्रॉफी का पहला संस्करण 1934-35 सत्र में खेला गया था और उसके बाद से इस टूर्नामेंट से अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश के लिए सर्वोत्तम प्रदर्शन करने वाले कई खिलाड़ी निकले हैं।


अभी तक इस टूर्नामेंट में मुंबई (बॉम्बे) की टीम सबसे ज़्यादा सफल रही है जिसने 1958-59 से 1972-73 सत्रों में लगातार 15 बैक-टू-बैक ख़िताब जीते हैं। कुल मिलकर अभी तक मुंबई टीम 41 बार रणजी ट्रॉफी जीत चुकी है। जबकि, 2017-18 सत्र में विदर्भ ने अपनी पहली रणजी ट्रॉफी जीती है।


प्रारूप


प्रतियोगिता में चार ग्रुप होंगे, जिसमें ए और बी दोनों ग्रुपों में नौ-नौ टीमें होंगी, जबकि ग्रुप सी में दस टीमें होंगी। इसके अलावा प्लेट ग्रुप में भी दस टीमें शामिल रहेंगी।


टीमें


ग्रुप ए - आंध्रा, बंगाल, दिल्ली, गुजरात, हैदराबाद, केरल, पंजाब, राजस्थान और विदर्भ।


ग्रुप बी - बड़ौदा, हिमाचल प्रदेश, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, मुंबई, रेलवे, सौराष्ट्र, तमिलनाडु और उत्तर प्रदेश।


ग्रुप सी - असम, छत्तीसगढ़, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, झारखंड, महाराष्ट्र, ओडिशा, सेना, त्रिपुरा और उत्तराखंड।


ग्रुप डी - अरुणाचल प्रदेश, बिहार, चंडीगढ़,गोवा, मणिपुर, मेघालय, मिजोरम, नागालैंड, पुडुचेरी, सिक्किम ।