क्रिकेट

विदेशी दौरों पर विराट कोहली द्वारा खेली गई 4 सबसे यादगार टेस्ट पारियों पर एक नज़र

इंग्लैंड दौरे पर खेले गए पहले टेस्ट मैच में विराट कोहली ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए दिखाया कि उनके खेल में कितना सुधार आया है। साल 2014 के इंग्लैंड दौरे पर कोहली बुरी तरह नाकाम साबित हुए थे, जिसकी वजह से उनकी काफ़ी आलोचना हुई थी। मौजूदा इंग्लैंड दौरे पर कोहली को छोड़कर कोई भी बल्लेबाज़ अपनी छाप नहीं छोड़ पाया है।

पहले टेस्ट में जहां कोहली ने टीम इंडिया के 45 फ़ीसदी रन बनाए थे, वहीं टीम के दूसरे बल्लेबाज़ संघर्ष करते हुए नजर आए। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और मुरली विजय नाकाम रहे और उप-कप्तान रहाणे भी कमाल नहीं दिखा पाए। कोहली ने पिछले कुछ सालों में टेस्ट में कुछ शानदार पारियां खेली हैं। हम यहां कोहली की विदेशी सरजमीं पर 4 यादगार पारियों को लेकर चर्चा कर रहे हैं।

#1) 116 बनाम ऑस्ट्रेलिया, एडिलेड, 2012


साल 2012 में टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर गई थी। इस सीरीज में ऑस्ट्रेलिया ने भारत को 4-0 से हरा दिया था। भारत की तरफ़ से सिर्फ़ कोहली ही अच्छा खेल दिखा पाए थे। इस दौरे पर टेस्ट सीरीज़ के पहला 3 मैच टीम इंडिया बुरी तरह हार गई थी। चौथा और आख़िरी टेस्ट में भी कोई नयापन देखने को नहीं मिला।

कोहली पर भी इस मैच में काफ़ी दबाव था, क्योंकि उन्होंने पिछले 3 टेस्ट मैच में महज़ 162 रन बनाए थे। टीम मैनेजमेंट कोहली की जगह रोहित शर्मा को मौका देने पर विचार कर रही थी, लेकिन कप्तान धोनी और उप-कप्तान सहवाग ने कोहली को बनाए रखने पर ज़ोर दिया और कोहली ने निराश नहीं किया।

कोहली ने ऋद्धिमान साहा के साथ मिलकर 114 रन की साझेदारी की। विराट ने 116 रन की पारी खेली और टीम इंडिया 272 का स्कोर बना पाई। हांलाकि टीम इंडिया ये मैच 298 रन से हार गई थी, लेकिन कोहली की पारी हमेशा याद की जाएगी।
Page 1 of 4 Next