Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

On This Day - सचिन तेंदुलकर ने आज ही के दिन 2011 वर्ल्ड कप में शानदार पारी खेलकर भारतीय टीम को फाइनल में पहुंचाया था

सचिन तेंदुलकर अपनी पारी के दौरान
सचिन तेंदुलकर अपनी पारी के दौरान
SENIOR ANALYST
Modified 30 Mar 2020, 14:59 IST
न्यूज़
Advertisement

30 मार्च 2011, ये वो दिन है जब भारतीय टीम ने पाकिस्तान को हराकर 2011 वर्ल्ड कप के फाइनल में प्रवेश किया था। मोहाली में खेले गए सेमीफाइनल मुकाबले में भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 9 विकेट के नुकसान पर 260 रन बनाए थे, जवाब में पाकिस्तान की टीम 49.5 ओवर में 231 रन पर सिमट गई थी और भारत ने वो मैच जीत लिया था। सचिन तेंदुलकर ने उस मुकाबले में शानदार पारी खेली थी और उन्हें मैन ऑफ द मैच चुना गया था।

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया और सचिन तेंदुलकर और वीरेंदर सहवाग की जोड़ी ने टीम को जबरदस्त शुरुआत दी। दोनों बल्लेबाजों ने पहले विकेट के लिए 5.5 ओवर में 48 रनों की धुआंधार साझेदारी की। सहवाग ने सिर्फ 25 गेंद पर 38 रन बनाए। वहाब रियाज ने उनको आउट कर इस साझेदारी को तोड़ा। मध्यक्रम में गौतम गंभीर ने 27 रन बनाए लेकिन कोहली 9 और युवराज सिंह बिना खाता खोले आउट हो गए। हालांकि सचिन तेंदुलकर एक छोर पर टिके रहे और 85 रनों की पारी खेली। सुरेश रैना ने नाबाद 36 रन बनाए। यही वजह रही कि 205 रन तक 6 विकेट गंवाने के बावजूद भारतीय टीम 260 का सकोर बनाने में सफल रही थी।

ये भी पढें: एम एस धोनी को लेकर सारे सवालों का जवाब बीसीसीआई को देना चाहिए - इरफान पठान

वहीं लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम 106 रन तकर 4 विकेट गंवा दिए और टीम दबाव में आ गई। मोहम्मद हफीज ने 43 और मिस्बाह उल हक ने 56 रनों की पारी खेली लेकिन और कोई भी बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल सका। भारत की तरफ से पांचों गेंदबाजों ने 2-2 विकेट लेकर पाकिस्तान को 231 रन पर रोक दिया। पाकिस्तानी टीम ने इस मैच में शोएब अख्तर को नहीं खिलाया था।

इस तरह से भारत ने वर्ल्ड कप में पाकिस्तान के खिलाफ 5वीं जीत दर्ज की और फाइनल में प्रवेश किया। उसके बाद भारतीय टीम श्रीलंका को हराकर चैंपियन बनी।

Published 30 Mar 2020, 14:59 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit