Create
Notifications

5 दिग्गज फ़ुटबॉल खिलाड़ी: दक्षिण अमेरिका

FC Internazionale Milano v AC Milan - Serie A
Pravir Rai

फ़ुटबॉल जगत में काफी खिलाड़ी हुए हैं जिन्होने बहुत नाम कमाया है। ये खिलाड़ी अलग अलग देश और महाद्वीप के रहे हैं। आज हम उन खिलाड़ियों का उल्लेख करेंगे जिन्होने साउथ अमेरिका से खेलते हुए अपने अभूतपूर्व प्रदर्शन, कला, और तकनीक से दुनियाभर के प्रशंसकों का दिल जीता। इन खिलाड़ियों ने अपने खेल से सबका मनोरंजन किया और फ़ुटबॉल को एक खेल के रूप में ऊंचाइयों पर ले गए। मैदान पर खेलते हुए ना सिर्फ दर्शक बल्कि उनके विरोधी भी, उनकी कला और प्रतिभा को देख कर हतप्रभ हो जाते थे।

उन 5 खिलाड़ियों का लेखा जोखा नीचे प्रस्तुत किया गया है:

5. रोनाल्डिंहो

इनको विश्व के महानतम खिलाड़ियों की सूची में गिना जाता है। वो ड्रिब्लिंग और तेज़ी से भागने के लिए प्रसिद्ध थे। वो 2002 वर्ल्ड कप जीतने वाली ब्राज़ील की टीम का हिस्सा भी थे। उनको 'फीफा वर्ल्ड प्लेयर ऑफ द इयर' के पुरस्कार से 2003 और 2004 में सम्मानित किया गया।

इन्होने 529 क्लब मुकाबलों में 196 गोल किये और ब्राज़ील के लिए खेलते हुए 97 मुकाबलों में 33 गोल किये। जब इन्होने 2003 में स्पेनिश क्लब 'बार्सिलोना' के लिए नंबर 10 की शर्ट पहन कर खेलना शुरू किया, तब से उस क्लब की काया ही पलट गयी।

पेले ने इनको '100 महानतम फ़ुटबॉल खिलाड़ी' की सूची में जगह दी है।

4. नीमार

Paris Saint-Germain v RSC Anderlecht - UEFA Champions League

इन्होने अपनी गति, योग्यता, ड्रिब्लिंग, और कौशल से फ़ुटबॉल जगत में अपना नाम रोशन किया। पेले और रोनाल्डो के बाद ये ब्राज़ील के लिए तीसरे सबसे ज़्यादा गोल करने वाले खिलाड़ी है। 'स्पोर्ट्स्प्रो' नामक पत्रिका ने इनको 2012 और 2013 का सबसे 'असाधारण खिलाड़ी' बताया था।

2017 में €222 million के मूल्य में इनको 'पेरिस सैंट जेरमैन' ने 'बार्सिलोना' से खरीदा था, जो तब तक का सबसे महँगा सौदा था। अब तक नीमार ने ब्राज़ील के लिए 60 गोल किए है और क्लब स्तर पर 150 से भी ज़्यादा गोल किये। लोग इनका नाम लिओनेल मेस्सी और क्रिस्टीयानों रोनाल्डो के साथ लेते है, जो दर्शाता है की ये कितने बेहतरीन खिलाड़ी है।

3. पेले

Pele of Brazil

कई लोग इनको आजतक का फ़ुटबॉल का नंबर 1 खिलाड़ी मानते हैं। इनके बारे में जो भी कहा जाये, वो कम है। लोग इनको इज्ज़त से 'फ़ुटबॉल का बादशाह' भी कहते है। इन्होने 17 साल की उम्र में ब्राज़ील के लिए पहला 'वर्ल्ड कप' जीता। उनकी ताक़त उनकी गति, ड्रिब्लिंग, और सिर से गोल करने की क्षमता थी।

उन्होने ब्राज़ील के लिए 93 मैच खेले और 77 गोल दागे। इसके अलावा उन्होने 694 क्लब स्तर पर 650 गोल किए। सन 1999 में उनको 'सदी का महानतम फ़ुटबॉलर' का पुरस्कार दिया गया।

2. डिएगो मैराडोना

Diego Maradona Argentina 1985

कई लोग इनको भी फ़ुटबॉल का महानतम खिलाड़ी मानते हैं। उनकी तेज़ी, ड्रिब्लिंग, पासिंग, और बॉल-नियंत्रण की कला अभूतपूर्व थी। इनके प्रशंसक इनको 'द गोल्डेन बॉय' कह कर बुलाते थे। क्लब स्तर पर इन्होने 588 मैच खेले और 312 गोल किए। अपने देश अर्जेंटीना के लिए इन्होने 34 गोल किए।

अपने दो सनसनीखेज गोलों से इन्होने 1986 में अर्जेंटीना को वर्ल्ड कप जिताया। ये दोनों ही गोल फ़ुटबॉल के सारे प्रशंसको के मानस-पटल पर पूर्ण रूप से अंकित हैं।

1. लियोनेल मेस्सी

FC Barcelona v RCD Espanyol - La Liga

इनके बारे में जितना कहा जाये वो कम है। ये अद्भुत कला के प्रतीक हैं, जो दिन प्रतिदिन अपने खेल को एक नयी ऊंचाइयों पर ले जा रहे हैं। इन्होने 'Ballon d'Or' का खिताब 5 बार जीता है। इन्होने अपने पूरे व्यावसायिक जीवन में फ़ुटबॉल, बार्सिलोना और अपने देश अर्जेंटीना के लिए ही खेला है। उनकी पासिंग, ड्रिब्लिंग, और गति बहुत ही अद्भुत है।

इन्होने अपने देश और क्लब के लिए 670 से भी ज़्यादा गोल किए हैं। जब ये मैदान में उतरते हैं तो जैसे एक उन्माद सा पैदा हो जाता है। उन्होने 2005 में अर्जेंटीना को 'U-20 वर्ल्ड कप' में विजयी बनाया था।

Edited by निशांत द्रविड़

Comments

Fetching more content...