Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

वो 5 स्टार फुटबॉलर जिनके लिए शोहरत और ग्लैमर से बढ़कर है 'अपना क्लब'

CONTRIBUTOR
Modified 15 Oct 2016, 01:17 IST
Advertisement

'शोहरत' और 'ग्लैमर' इन दोनों चीजों के फुटबॉल पर गहरे प्रभाव को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता। अपने करियर के दौरान फुटबॉल खिलाड़ियों द्वारा लिए गए काफी फैसलों में पैसे या ग्लैमर को फुटबॉल के खेल से ज्यादा अहमियत दी जाती है। मोटी रकम के चलते एक टीम से दूसरे में जाने वाले कई खिलाड़ी अपने इस फैसले को सही ठैराते हैं। वहीं कुछ ऐसे प्लेयर्स भी हैं जिन्होंने ज्यादा पैसों के लिए अपना क्लब तो छोड़ा, लेकिन उनका खेल खराब हो गया। उधर कुछ ऐसे खिलाड़ी भी मजूद हैं जो लंबे समय से अपने क्लब में खेल रहे हैं और ‘दिग्गज फुटबॉलर’ के रूप में उभरे हैं। जब भी इन खिलाड़ियों के पास क्लब छोड़कर जाने के लिए बड़े ऑफर आए हैं, इन्होंने हमेशा उन ऑफर्स को नजरअंदार कर अपने चहेते क्लब को अहमियत दी है। हम यहां बात कर रहे हैं ऐसे पांच खिलाड़ियों की जो महंगी फुटबॉल डील्स को ठुकराकर अपने चहेते क्लब से जुड़े रहे:


#5 Ledley King – Tottenham Hotspur

king

टॉटनहैम क्लब के पूर्व डिफेंडर और कप्तान ‘लेडले किंग’ को सेंटर बैक पोजिशन पर खेलने वाले सबसे अच्छे प्रीमियर लीग खिलाड़ियों में गिना जाता है। हालांकि उनकी लंबी समय तक चली घुटने की चोट ने उनके शानदार करियर में काफी परेशानियां पैदा कीं। लेकिन जब वो फिट थे तब किंग, यूरोप में सबसे बेहतरीन खिलाड़ी रहे। 1999 से 2012 तक लेडले के खेल का कोई सानी नहीं था। अपने शानदार परफॉर्मेंस के चलते उन्हें टाइम्स मैग्जीन ने वोटिंग के जरिए क्लब का 25वां सबसे अच्छा खिलाड़ी चुना। टॉटनहैम के लिए खेलते हुए किंग के करियर में कई बार ऐसे मौके आए जब ‘चेल्सी’ और ‘आर्सेनल’ जैसे प्रतिद्वंद्वी क्लबों ने उन्हें अपने साथ जुड़ने की पेशकश की। ये क्लब्स लेडले को कहीं बेहतर फीस और चैपियंस लीग में खेलने जैसे सुनहरे मौके देने को तैयार थे। लेकिन, अपनी चहेती टीम से किंग का लगाव इतना गहरा था कि इन सब आकर्षणों का उन पर कोई असर नहीं हुआ और उन्होंने यूरोप के इन बड़े नामों के साथ जुड़ने से इंकार किया। वहीं टॉटनहैम के खिलाड़ी ‘सोल कैंपबेल’, क्लब छोड़ प्रतिद्वंद्वी क्लब आर्सेनल में शामिल हुए। उनके इस फैसले को फैंस ने काफी नापसंद किया और उनके रिसेप्शन में नाराजगी भी जाहिर की। इसी बात को एक उदाहरण के तौर पर किंग ने लिया और क्लब को नहीं छोड़ने का मन बनाया। हाल ही में एक टीवी इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि सोल के जाने के बाद मेरे क्लब छोड़ने की अफ्वाह काफी फैलीं, हालांकि ये कभी होता नहीं। मैंने सोल के जाने के दौरान का माहौल देखा था। उन्होंने कहा कि मैं कभी टॉटनहैम को छोड़कर नहीं जाता और कम से कम ‘आर्सेनल’ में तो बिलकुल नहीं।
1 / 5 NEXT
Published 15 Oct 2016, 01:17 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit