फ़ुटबॉल

ISL 2017 ड्राफ्ट: 5 भारतीय खिलाड़ी जिन्हें जरुरत से ज्यादा ही साइनिंग अमाउंट मिल गया

ये खिलाड़ी बड़े साइनिंग अमाउंट के लायक नहीं थे।

ISL के नए सत्र का जूनून लोगों के सर चढ़ कर बोल रहा है। इसका अंदाजा हाल ही में खत्म हुए ड्राफ्ट से लगाया जा सकता है जहां 10 टीमों ने खिलाड़ियों को अपने टीम में शामिल किया।

एफसी जमशेदपुर जहां सबसे ज्यादा पैसा खर्च करने वाली टीम बनी, वही एफसी गोवा ने अपने 13 खिलाड़ियों पर 2 करोड़ रूपये खर्च कर दिए। अनस और यूजेनेसन लिंगडो जहां सबसे महंगे खिलाड़ी रहे, वहीं धर्मराज और मोहनराज जैसे दिग्गज और बड़े खिलाड़ियों के लिए किसी भी टीम ने दिलचस्पी नहीं दिखाई।

हाल ही में संपन्न हुए ड्राफ्ट में 10 टीमों ने कुल मिलाकर 135 खिलाड़ियों की बोली लगाई और उन्हें खरीदा। हालांकि कुछ अच्छे खिलाड़ियों की बोली काफी कम लगी, जबकि कई खिलाडियों की उम्मीद से ज्यादा बोलीयां लगी ।

आइए हम उन पांच भारतीय खिलाड़ियों पर नजर डालते है जो कि उम्मीद के मुताबिक ड्राफ्ट में कुछ ज्यादा महंगे बिके:


#5 राहुल भीके (बेंगलुरू एफसी)

राहुल भीके (लेफ्ट में) का कैरियर कंसिस्टेंट नहीं है
भीके इस सत्र में 43 लाख रुपये की बड़ी राशि के साथ ब्लूज़ में शामिल हुए, राहुल आईसीएल में एफसी पुणे सिटी के लिए अंतिम बार खेले थे। मुंबई एफसी और पूर्वी बंगाल के लिए भीके की पिछली परफॉरमेंस अच्छी थीं, लेकिन आईएसएल में उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है।

भीके एक अच्छी प्रतिभा है और अल्बर्ट रोका के साथ सुधार कर सकते हैं, जो बॉल के साथ फुलबैक पर हमला करने पर जोर देते हैं। बेंगलुरु ने इस खिलाड़ी को अपने साथ लेकर काफी जोखिम उठाया है, क्योंकि अभी तक परफॉरमेंस की बात की जाये तो भीके का प्रदर्शन, उनके अनुभव के हिसाब से काफी कमतर है और वो अभी तक अपनी प्रतिभा साबित नहीं कर पाए।
Page 1 of 5 Next