Create
Notifications

SAFF Cup - कप्तान सुनील छेत्री की बदौलत मालदीव को हराकर फाइनल में पहुंचा भारत

कप्तीन छेत्री ने 2 गोल कर टीम इंडिया को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।
कप्तीन छेत्री ने 2 गोल कर टीम इंडिया को जीत दिलाने में अहम भूमिका निभाई।
ANALYST

भारतीय फुटबॉल टीम ने पिछले दिनों से चले आ रहे अपने खराब प्रदर्शन पर पार पाते हुए सैफ कप के फाइनल में जगह बना ली है। टीम ने मेजबान मालदीव को 3-1 से हराकर कुल 3 अंक कमाए और राउंड रॉबिन स्टेज में टॉप पर रही। भारत का फाइनल में सामना पड़ोसी देश नेपाल के साथ होगा। जीत के प्रमुख हीरो रहे कप्तान सुनील छेत्री जिन्होंने 2 गोल दागे।

FULL-TIME! ⌛️The referee blows his whistle and brings an end to the game! India are through to the Final! 🙌🇮🇳 3-1 🇲🇻#INDMDV ⚔️ #SAFFChampionship2021 🏆 #BackTheBlue 💙 #IndianFootballhttps://t.co/n9J2aZvvos

दर्शकों से खचाखच भरे स्टेडियम में 158वीं विश्व रैंकिंग वाली मेजबान मालदीव के खिलाफ 107वीं फीफा रैंकिंग वाली भारतीय टीम ने शुरुआत से ही मौके बनाने की कोशिश की। 30वें मिनट में सुनील छेत्री के पास एक शानदार हेडर को गोल में तब्दील करने का मौका था , लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। लेकिन फिर 33वें मिनट में ही मनवीर सिंह ने बेहतरीन गोल कर टीम को 1-0 की बढ़त दिला दी। लेकिन 45वें मिनट में मालदीव को पेनेल्टी मिली और उनके अनुभवी खिलाड़ी अशफाक ने इसे गोल में डालकर मैच 1-1 की बराबरी पर ला दिया।

71' GOOAAL! WHAT A HEADER BY SUNIL CHHETRI!Free-kick is swung in from the right, and Chhetri loops his header over the keeper and into the top corner!🇮🇳 3-1 🇲🇻✍️ bit.ly/3DxlyLw#INDMDV ⚔️ #SAFFChampionship2021 🏆 #BackTheBlue 💙 #IndianFootballhttps://t.co/LhqPiRUcbQ

दूसरे हाफ की शुरुआत से ही भारत ने आक्रामक खेल दिखाया। 62वें मिनट में मनवीर के असिस्ट को कप्तान छेत्री ने गोल पोस्ट के अंदर डालकर टीम को 2-1 की बढ़त दिला दी। मालदीव की टीम पहले ही पिछड़ रही थी, और 71वें मिनट में छेत्री ने शानदार हेडर से गोल किया और मुकाबले में भारत को 3-1 की निर्णायक बढ़त दिला दी। खास बात ये है कि 2018 में हुए सैफ कप के फाइनल में मालदीव ने भारत को हराया था, और इस बार भारत ने मालदीव को हराकर उन्हें टूर्नामेंट से बाहर कर दिया। सुनील छेत्री को उनके 2 गोल के लिए मैन ऑफ द मैच का अवॉर्ड दिया गया। छेत्री ने पिछले ही मैच में सबसे ज्यादा अंतर्राष्ट्रीय गोल के मामले में ब्राजील के महान फुटबॉल खिलाड़ी पेले की बराबरी 77 गोल के साथ की थी और इस मैच के बाद पेले को 79 गोल के साथ पीछे छोड़ दिया।

भारतीय कोच को रेड कार्ड

भारत-मालदीव के इस मैच में रेफरी कार्ड दिखाने के मूड से ही आए थे। मैच के 81वें मिनट में एक बेहद अजीब मौका देखने को मिला जब रेफरी ने भारतीय कोच स्टिमाक को रेड कार्ड दिखा दिया। नए नियमों के हिसाब से रेफरी खिलाड़ियों के अलावा टीम के कोच, सहायक कोच, और बाकी स्टाफ को भी पीला और लाल कार्ड दिखा सकते हैं। लाल कार्ड दिखाए जाने के बाद भारतीय कोच स्टिमाक को मैदान की लाईन के पास से हटकर बाहर जाना पड़ा। इतना ही नहीं रेफरी ने अन्य भारतीय ऑफिशियल को भी पीला कार्ड दिखाया।

फाइनल में नेपाल से सामना

भारत ने कुल 8 अंकों के साथ राउंड रॉबिन की तर्ज पर हुए मुकाबलों के बाद टेबल टॉप किया। टूर्नामेंट की शुरुआत भारत के लिए ज्यादा खास नहीं रही थी जब बांग्लादेश और श्रीलंका के खिलाफ भारत ने ड्रॉ खेला था। इसके बाद टीम ने नेपाल को 1-0 से हराया और अब मालदीव को मात दी है। फाइनल में भारत का सामना नेपाल से होगा। नेपाल को इसी टूर्नामेंट में 1-0 से हराने के बाद टीम इंडिया के हौसले बुलंद होंगे। भारत ने आखिरी बार 2015 में ये टूर्नामेंट जीता था।

Edited by निशांत द्रविड़
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now