खेल

दीपा कर्माकर ने जिम्नास्टिक वर्ल्ड चैलेंज कप में जीता गोल्ड मेडल

दीपा कर्माकर ने 2 साल बाद वापसी करते हुए इतिहास रचा

भारत की स्टार जिम्नास्ट दीपा कर्माकर ने एक और उपलब्धि अपने नाम कर ली है। तुर्की में आयोजित जिम्नास्टिक वर्ल्ड चैलेंज कप में उन्होंने रविवार को स्वर्ण पदक अपने नाम किया। दीपा ने जिमनास्टिक की वॉल्ट स्पर्धा में 14.150 अंक के साथ पहला स्थान हासिल किया। वर्ल्ड चैलेंज कप में दीपा कर्माकर का ये पहला मेडल है।

दीपा कर्माकर ने अपने पहले प्रयास में सिर्फ 5.400 का स्कोर किया। हालांकि दूसरे प्रयास में उन्होंने 14.200 का स्कोर हासिल कर अच्छी वापसी की। इससे उनका औसत स्कोर 14.150 पहुंच गया। आपको बता दें दीपा कर्माकर ने लगभग दो साल के बाद वापसी की है। 2016 में हुए रियो ओलंपिक में उन्होंने चौथा स्थान हासिल किया था। रियो ओलिंपिक में शानदार प्रदर्शन के बाद दीपा चोटिल हो गई थीं। इस दौरान वे इस खेल से दूर रहीं। इस समय उनकी सर्जरी भी हुई। उन्हें कॉमनवेल्थ गेम्स तक वापसी की उम्मीद थी लेकिन चोट से उबरने में उन्हें काफी समय लगा और वह गोल्ड कोस्ट में आयोजित इवेंट तक फिट नहीं हो सकीं। हालांकि दीपा कर्माकर अगस्त में जकार्ता में होने वाले एशियाई खेलों में 10 सदस्यीय भारतीय जिमनास्टिक टीम का हिस्सा हैं। उनकी इस जीत पर प्रधानमंत्री मोदी ने भी ट्वीट कर बधाई दी।


पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा 'इंडिया की शान दीपा कर्माकर को जिम्नास्टिक वर्ल्ड चैलेंज कप में गोल्ड मेडल जीतने पर बधाई। ये जीत उनकी दृढ़ निश्चिता और कभी हार ना मानने वाली स्वभाव को दिखाता है':

 


खेल मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौड़ ने भी ट्वीट कर दीपा कर्माकर को बधाई दी। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा 'दीपा कर्माकर असली चैंपियन हैं। चोट की वजह से दो साल दूर रहने के बाद उन्होंने जबरदस्त वापसी की। देश का नाम रोशन करने के लिए उन्हें बहुत-बहुत बधाई':

 

महान अभिनेता अमिताभ बच्चन ने भी ट्वीट कर उनको बधाई दी:

 

दीपा कर्माकर ने भी अपनी इस जीत पर ट्वीट किया और कहा कि ये मेडल उनके लिए है जिन्होंने हमेशा मुझ पर अपना विश्वास बनाए रखा।