क्रिकेट

SAvIND: 3 खिलाड़ी जिनको बचे हुए एकदिवसीय मैचों में मौक़ा मिलना चाहिए

चौथा वनडे शनिवार को जोहांसबर्ग में खेला जाएगा, उम्मीद है कि कोहली इन तीन में से किसी एक को मौक़ा ज़रूर देंगे

 

भारतीय क्रिकेट टीम के दक्षिण अफ्रीका के दौरे की शुरुआत खराब थी, क्योंकि वह पहले दो टेस्ट हार गए थे। हालांकि, टीम ने श्रृंखला के अंतिम टेस्ट में शानदार वापसी की और एकदिवसीय श्रृंखला में यह सिलसिला जारी रखा।


स्पिन गेंदबाजों ने चोटों से ग्रस्त दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजी क्रम के चारों ओर एक जाल बुना है। भारत ने 6 मैचों की श्रृंखला में 3-0 की बढ़त हासिल कर ली है और यह टीम को ऐसे खिलाड़ियों को आजमाने का एक शानदार अवसर है जो बेंच पर बैठे हैं।

#3 मोहम्मद शमी


 

मोहम्मद शमी ने भारत के लिए एक आखिरी बार एकदिवसीय मैच पिछले साल सितंबर 2017 में खेला था और 2015 के पिछले विश्व कप से सिर्फ 3 एकदिवसीय मैच में खेले हैं। वह विश्व कप में भारतीय टीम के लिए स्टार गेंदबाज थे। वह धीरे-धीरे अपनी फिटनेस तब से हासिल कर चुके है और अब अच्छी लय में लग रहे हैं।

शमी की जगह पर भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह ने कब्जा कर लिया है, क्योंकि उनकी अनुपस्थिति में वे शानदार प्रदर्शन करते रहे हैं। बुमराह और भुवनेश्वर दोनों ने ही इंग्लैंड में 2019 के विश्व कप के लिए अपने स्थान को मजबूत किया है। हालांकि, वहाँ सिमिंग विकेटों के कारण तीसरे तेज़ गेंदबाज के लिए एक जगह खाली है।

दक्षिण अफ्रीका के टेस्ट मैचों में इस तेज गेंदबाज ने शानदार प्रदर्शन किया। एकदिवसीय में उनके नाम एक शानदार रिकॉर्ड बना हुआ है, जहाँ 50 मैचों में 26 के शानदार औसत से उन्होंने 91 विकेट लिए थे। उन्हें क्रिकेट के इतिहास में 100 विकेट लेने वाले सबसे तेज गेंदबाज बनने का अवसर मिला है।

शमी भारत की विश्व कप 2019 की योजना का एक महत्वपूर्ण हिस्सा हैं और इस श्रृंखला में 3-0 से बढ़त ने कोहली को उनके फॉर्म और फिटनेस के स्तर का परीक्षण करने के लिए एक आदर्श अवसर दिया है, साथ ही खेल के सभी स्वरूपों में लगातार गेंदबाजी करने वाले  गेंदबाजों को आराम भी मिलेगा।
Page 1 of 3 Next