Create
Notifications

दूध के फायदे : Doodh Ke Fayde 

दूध के फायदे (Source - sportskeeda hindi)
दूध के फायदे (Source - sportskeeda hindi)
Vineeta Kumar
visit

दुनिया भर में, हजारों सालों से दूध (milk) का आनंद लिया जाता रहा है। अधिकतम गाय, भैंस, बकरी, ऊटनी, भेड़ से हमें दूध प्राप्त होता है। परिभाषा के अनुसार, दूध एक पोषक तत्वों से भरपूर तरल भोजन है जो स्तनधारियों की स्तन ग्रंथियों द्वारा निर्मित होता है। यह युवा स्तनधारियों (स्तनपान कराने वाले मानव शिशुओं सहित) के लिए पोषण का प्राथमिक स्रोत है, इससे पहले कि वे ठोस भोजन को पचाने में सक्षम हों। जल्दी स्तनपान कराने वाले दूध, जिसे कोलोस्ट्रम (colostrum) कहा जाता है, में एंटी-बॉडी होते हैं जो प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करते हैं और इस प्रकार कई बीमारियों के जोखिम को कम करते हैं। दूध में प्रोटीन (protein) और लैक्टोज (lactose) समेत कई अन्य पोषक तत्व होते हैं। जबकि मनुष्य अन्य स्तनपायी दूध के प्राथमिक उपभोक्ता हैं, दूध की अन्य अंतर्जातीय खपत देखी गई है। रोज़ाना 6 बिलियन लोग दूध का सेवन करते है।

दूध के 5 विज्ञान समर्थित स्वास्थ्य लाभ नीचे दिए गए हैं ताकि आप तय कर सकें कि यह आपके लिए कितना सही विकल्प है:-

दूध के फायदे : Doodh Ke Fayde In Hindi

1. दूध पोषक तत्वों से भरपूर होता है (filled with nutrients)

दूध में विटामिन, मिनरल, प्रोटीन, हेअल्थी फैट्स और एंटी-ऑक्सीडेंट (anti-oxidant) सहित पोषक तत्वों का एक मेल होता है। ध्यान रखें कि इसकी पोषण सामग्री कई कारकों के आधार पर भिन्न हो सकती है।

2. यह गुणवत्तापूर्ण प्रोटीन का अच्छा स्रोत है (good source of protein)

दूध गुणवत्तापूर्ण प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है जिसमें सभी 9 आवश्यक अमीनो एसिड (amino acid) होते हैं। यह उम्र से संबंधित मांसपेशियों के नुकसान को कम करने और व्यायाम के बाद मांसपेशियों की मरम्मत को बढ़ावा देने में मदद कर सकता है।

3. हड्डियों के लिए दूध के लाभ (benefits bone health)

दूध में कई तरह के पोषक तत्व होते हैं जो हड्डियों के स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाते हैं, जैसे calcium, विटामिन D, phosphorus और magnesium, अध्ययनों से पता चलता है कि दूध और डेयरी उत्पादों का सेवन ऑस्टियोपोरोसिस (osteoporosis) को रोक सकता है और फ्रैक्चर (fracture) के जोखिम को कम कर सकता है।

4. वजन बढ़ने से रोकने में मदद करता है (helps in weight management)

अपने आहार में दूध, विशेष रूप से शुद्ध दूध को शामिल करने से वजन बढ़ने से रोका जा सकता है।

5. दूध एक बहुमुखी सामग्री है (milk as a versatile ingredient)

दूध एक बहुमुखी सामग्री है जिसे कई तरीकों से आपके आहार में शामिल किया जा सकता है। इसे स्मूदी, कॉफी या अपने सुबह के दलिया में मिलाने की कोशिश करें।

**आज के समय में आपके पास वेगन दूध का भी विकल्प है। वेगनिस्म (veganism) फॉलो करने वाले लोग यह दूध चुन सकते है :-

बादाम का दूध (Almond milk)

बादाम से बना यह पौधा-आधारित विकल्प गाय के दूध की तुलना में कैलोरी और फैट्स में कम होता है।

नारियल का दूध (coconut milk)

नारियल की गरी और पानी से बने इस ड्रिंक में एक मलाईदार बनावट और हल्का स्वाद होता है।

काजू का दूध (cashew milk)

काजू और पानी को मिलाकर यह बहुत ही मीठा और भरपूर विकल्प है।

सोया दूध (soya milk)

गाय के दूध के समान प्रोटीन होता है और इसका स्वाद हल्का होता है।

भांग का दूध (hemp milk)

यह विकल्प भांग के बीज से बनाया जाता है और उच्च गुणवत्ता, पौधे-आधारित प्रोटीन की अच्छी मात्रा प्रदान करता है।

जई का दूध (oat milk)

यह विकल्प एक गाढ़ी स्थिरता के साथ स्वाद में बहुत हल्का होता है, जो इसे कॉफी के लिए एक बढ़िया अतिरिक्त बनाता है।

चावल का दूध (rice milk)

संवेदनशील या एलर्जी वाले लोगों के लिए एक बढ़िया विकल्प, क्योंकि यह सभी नॉनडेयरी दूधों में सबसे कम एलर्जेनिक है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now