Create

गैस और एसिडिटी से बचने के लिए योगासन : Gas Aur Acidity Se Bachne Ke Liye Yoga

गैस और एसिडिटी से बचने के लिए योगासन (फोटो - sportskeeda hindi)
गैस और एसिडिटी से बचने के लिए योगासन (फोटो - sportskeeda hindi)

एसिडिटी या गैस की समस्या आज के समय में पाचन से जुड़ी एक आम समस्या है। यह परेशानी तब होती है जब पेट अतिरिक्त एसिड का उत्पादन करता है। आम तौर पर, पेट में एसिड का उत्पादन भोजन को तोड़कर पचाने के लिए होता है लेकिन कभी-कभी पेट में एसिड का अतिरिक्त स्राव होता है जिसके कारण पेट में गैस बनने की समस्या होती है। जानते हैं एसिडिटी और गैस (gas and acidity problem in hindi) की समस्या को दूर करने के लिए योगासन।

गैस और एसिडिटी से बचने के लिए योगासन : Gas Aur Acidity Se Bachne Ke Liye Yoga In Hindi

वज्रासन - वज्रासन गैस और एसिडिटी की समस्या को दूर लिए (pet ki gas ke liye yoga in hindi) लाभकारी आसन है। यह आसन पेट और आंत में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है और भोजन को प्रभावी ढंग से पचाने में मदद करता है जिससे एसिडिटी, गैस और अपच जैसी समस्याएं नहीं होती।

पश्चिमोत्तानासन - पश्चिमोत्तानासन पेट के अंगों को स्वस्थ रखने के लिए एक लाभकारी योगासन है। यह मुद्रा न केवल अंगों को ठीक तरह से काम करने बल्कि पाचन समस्याओं का इलाज करने में मदद करती है।

बालासन - बालासन करने से पाचन प्रणाली को आराम मिलता है और एसिडिटी (acidity problem ) से राहत पाने के लिए लाभकारी है। जब आप इस आसन में होते हैं, तो आपके पेट के अंगों को स्ट्रेच करने में मदद मिलती है और ये मजबूत होते हैं।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Naina Chauhan
2 comments