Create
Notifications

हीमोग्लोबिन की कमी के कारण और लक्षण - Hemoglobin Ki Kami Ke Kaaran Aur Lakshan

हीमोग्लोबिन की कमी के कारण और लक्षण - Hemoglobin Ki Kami Ke Kaaran Aur Lakshan (source- google images)
हीमोग्लोबिन की कमी के कारण और लक्षण - Hemoglobin Ki Kami Ke Kaaran Aur Lakshan (source- google images)
Vineeta Kumar
visit

हीमोग्लोबिन Hemoglobin (Hb) एक आयरन से भरपूर प्रोटीन है जो लाल रेड ब्लड सेल्स में पाया जाता है। मानव शरीर में कई शारीरिक प्रक्रियाओं को पूरा करने के लिए ऑक्सीजन की आवश्यकता होती है। हीमोग्लोबिन फेफड़ों को ऑक्सीजन से जोड़ता है और इसे बॉडी टिस्सुस तक ले जाता है। कुछ मामलों में, किसी व्यक्ति का हीमोग्लोबिन सामान्य स्तर से कम हो सकता है।

जब आपके हीमोग्लोबिन की संख्या कम होती है, तो आपका शरीर पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन सप्लाई नहीं कर पाता, जिसके कारण ही कार्य करने की क्षमता मिलती है। लेकिन कम हीमोग्लोबिन की गिनती चिंता की बात नहीं है। ज्यादातर मामलों में, हीमोग्लोबिन की संख्या औसत स्तर से कुछ कम होना किसी बीमारी का संकेत नहीं है। यह आपके सामान्य शरीर के कार्यों को प्रभावित नहीं कर सकता है। नीचे हीमोग्लोबिन के नार्मल काउंट, सिम्पटम्स व करणो के बारे में चर्चा की गयी है।

एक सामान्य हीमोग्लोबिन काउंट कितना होता है?

सामान्य हीमोग्लोबिन श्रेणियां हैं:

  • बच्चों के लिए: 17 से 22 ग्राम/dL
  • पुरुषों के लिए: एवरेज हीमोग्लोबिन रेंज 13.5 से 17.5 ग्राम प्रति dL के बीच है
  • महिलाओं के लिए: एवरेज हीमोग्लोबिन रेंज 12.3 और 15.3 gm/dL के बीच है।

हीमोग्लोबिन की कमी के कारण - Hemoglobin Ki Kami Ke Kaaran In Hindi

आयरन(iron) की कमी

आयरन की कमी से हीमोग्लोबिन की मात्रा कम हो जाती है। सबसे आम कारण आयरन की कमी है और यह वृद्ध व्यक्तियों और शाकाहारियों में सबसे अधिक प्रचलित है।

पर्याप्त धूप का अभाव

सूर्य की किरणों के पर्याप्त संपर्क में न आने से हीमोग्लोबिन की मात्रा कम होने से एनीमिया हो सकता है क्योंकि सूर्य के प्रकाश से हीमोग्लोबिन का उत्पादन बढ़ जाता है।

क्रोनिक किडनी रोग

कम हीमोग्लोबिन की गिनती क्रोनिक किडनी रोग की एक सामान्य जटिलता है। क्रोनिक किडनी रोग के अन्य लक्षणों में नोसेया, थकान और मांसपेशियों में ऐंठन शामिल हैं।

विटामिन की कमी से एनीमिया

स्वस्थ लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन के लिए शरीर को विशिष्ट फोलेट (follate), विटामिन B -12 और विटामिन सी की आवश्यकता होती है। यदि आप पर्याप्त फोलेट, विटामिन B-12, या विटामिन सी का सेवन नहीं करते हैं, या यदि आपके शरीर को इन विटामिनों को अवशोषित या संसाधित करने में कठिनाई होती है, तो विटामिन की कमी से एनीमिया हो सकता है।

कैंसर

कुछ कैंसर, शरीर में रेड ब्लड सेल्स के उत्पादन की क्षमता को प्रभावित कर सकते हैं। बोन मेरो में फैलने वाले कैंसर भी कम हीमोग्लोबिन की गिनती का कारण बन सकते हैं। खून की कमी जैसे अल्सर, ट्यूमर, बवासीर या नियमित रूप से रक्तदान करना भी निम्न स्तर का कारण बन सकता है।

हीमोग्लोबिन काउंट काम होने पे लक्षण -

जब आपका हीमोग्लोबिन कम होता है, तो कुछ समस्याएं हो सकती हैं जिनमें शामिल हैं:

  • चक्कर आना और कमजोरी महसूस होना
  • सांस लेने में कठिनाई होना
  • ठंडे हाथ और पैर होना
  • पेल या पीली त्वचा का हो जाना

कम हीमोग्लोबिन का क्या मतलब है? बहुत कम हीमोग्लोबिन की गिनती आमतौर पर यह बताती है कि आपको एनीमिया है। एनीमिया किसी व्यक्ति या जानवर में एक मेडिकल कंडीशन है जिसमें रेड ब्लड सैल्स या हीमोग्लोबिन की सामान्य संख्या से काम होती है। यह स्थिति किसी अंतर्निहित बीमारी, अपर्याप्त आयरन का सेवन, रक्त की कमी, पोषक तत्वों की कमी या कुछ दवाओं के दुष्प्रभाव के कारण हो सकती है।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now