Create

मिश्री खाने के फायदे और नुकसान : Mishri Khane Ke Fayde Aur Nuksan 

मिश्री खाने के फायदे और नुकसान (Source - Sportskeeda Hindi)
मिश्री खाने के फायदे और नुकसान (Source - Sportskeeda Hindi)
reaction-emoji
Vineeta Kumar

मिश्री चीनी (Rock Sugar) का एक अपरिष्कृत (unrefined) रूप है जिसका उपयोग भोजन और औषधीय प्रयोजनों के लिए किया जाता है। इसे गन्ने के रस और ताड़ के पेड़ के रस से बनाया जाता है। इसका उत्पादन भारत में ही शुरू हुआ था। इसके बाद इसे धीरे-धीरे पूरी दुनिया में इस्तेमाल किया जाने लगा। इसमें चीनी से कम मिठास होती है। यह आपको कई रूपों और आकारों में मिल जाएगा। मिश्री कई पोषक तत्वों, आवश्यक विटामिन, मिनरल्स और अमीनो एसिड से भरपूर होता है। मिश्री ही एक ऐसी चीज है जो मुंह में जाते ही मिठास घोल देती है। इसमें औषधीय गुण इतने अधिक होते हैं कि इसका उपयोग कई आयुर्वेदिक औषधियों में विशेष प्रभाव के लिए किया जाता है। परन्तु इसके फायदों के साथ नुकसान भी है।

मिश्री खाने के फायदे और नुकसान : Mishri Khane Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi

मिश्री खाने के फायदें : -

1. सांसों की दुर्गंध से पाएं छुटकारा (Get rid of bad breath)

यदि आप भोजन के बाद ब्रश या कुल्ला नहीं करते हैं, तो आपके मसूड़ों के अंदर बैक्टीरिया सांसों की दुर्गंध का कारण बन सकते हैं। खाने के बाद जब आप मिश्री का सेवन करेंगे तो इससे आपके मुंह से बदबू नहीं आएगी। यह मुंह और सांसों में ताजगी भरने में मदद करता है।

2. खांसी में उपयोगी (Useful in cough)

फ्लू होने पर खांसी होना स्वाभाविक है। ऐसे में मिश्री का इस्तेमाल किया जा सकता है। मिश्री में औषधीय गुण होते हैं जो आपको खांसी से तुरंत राहत दिला सकते हैं। अगर आपको लगातार खांसी हो रही है, तो थोड़ी सी मिश्री लें और इसे धीरे-धीरे अपने मुंह में चबाएं। इससे आपको काफी राहत मिलेगी।

3. अच्छे पाचन के लिए मिश्री (For good digestion)

पाचन क्रिया को बेहतर बनाने के लिए भी मिश्री का इस्तेमाल फायदेमंद माना जाता है। आयुर्वेद में यह भी वर्णन है कि सौंफ के साथ मिश्री खाने से पाचन क्रिया में सुधार हो सकता है। इसमें पाचक गुण होते हैं, जो भोजन को पचाने में मदद कर सकते हैं।

मिश्री खाने के नुकसान :-

आयुर्वेदिक औषधी के रूप में उपयोग करने पर ही मिश्री फायदेमंद होती है। अधिक मात्रा में सेवन करने से स्‍वास्‍थ्‍य पर इसके कुछ प्रतिकूल प्रभाव (Adverse effect) भी हो सकते हैं।

1. पेट को नुकसान भी दे सकता है (Can trouble the stomach)

फाइबर (Fiber) की अच्‍छी मात्रा होने के कारण यह आपके पाचन के लिए अच्‍छा होता है। लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से आपको पेट से संबंधित समस्‍याएं जैसे पेट दर्द, दस्‍त (Diarrhea) आदि की समस्‍या हो सकती है।

2. कूलिंग प्रॉपर्टीज होने के कारण नुकसान दें (Cooling properties can be harmful sometimes)

मिश्री में शीतलन प्रभाव होता है। इसलिए सर्दी खांसी (cold, cough) का उपचार करते समय इसका केवल औषधी के रूप में उपयोग करें।

3. कुछ दवाओं के साथ साइड-इफेक्ट्स की शिकायत (Can cause side effect)

यदि आप किसी विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं। तो मिश्री का औषधीय उपयोग करने से पहले अपने डॉक्‍टर से सलाह लें।

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।


Edited by Vineeta Kumar
reaction-emoji

Comments

Fetching more content...