Create
Notifications

पेट की चर्बी को गायब करने के लिए करें ये योगासन: Pet Ki Charbi Ko Gayab Karne Ke Liye Karein Ye Yogasan

फोटो: Indus Scrolls
फोटो: Indus Scrolls
Amit Shukla
ANALYST

पेट की चर्बी (Belly fat) को कम करने की इच्छा सभी रखते हैं लेकिन हर कोई इसे नहीं कर पाता है। काम की जद्दोजहद और सेहत पर होने वाले इसके प्रभाव के मद्देनजर कई बार कुछ लोग हल्का फुल्का चल लेते हैं या फिर पंजों को चलाकर ये मान लेते हैं कि उनकी पेट की चर्बी एकदम से गायब हो जाएगी।

ये भी पढ़ें: विटामिन सी की कमी से कौन सा रोग होता है: Vitamin C Ki Kami Se Kaun Sa Rog Hota Hai

ऐसा नहीं होगा इसलिए अगर आप भी अब तक खुद को इन झूठी बातों से तस्सली दे रहे थे तो अब ऐसा ना करें। पेट की चर्बी के कारण इंसान को सिर्फ नुकसान ही होता है। आप अपने शरीर में रोगों को एक प्रकार का न्योता दे रहे होते हैं जो सही बात नहीं है। आइए आपको बताते हैं वो योगासन जो पेट की चर्बी को पिघला देगा।

पेट की चर्बी को गायब करने के लिए करें ये योगासन: Remove Belly Fat With Yogasan

नौकासन करें: Do Naukasan

वैसे तो कई आसनों से इस लक्ष्य को प्राप्त किया जा सकता है लेकिन अगर आप नौकासन करते हैं तो उससे आपको काफी लाभ होगा। आपकी सेहत के लिए ये एक अच्छा आसन है। इस आसन को करने के दौरान आपको अपने पेट में एक दर्द सा लगेगा लेकिन उसकी वजह से इस आसन को ना रोकें।

ये भी पढ़ें: गुनगुने पानी में शहद के 5 फायदे: Gungune Paani Mein Shahed Ke 5 Fayde

कैसे करें नौकासन: How to do Naukasan

  1. सबसे पहले तो जमीन पर लेट जाएं जिसमें पेट छत और पीठ जमीन पर हो।
  2. इस दौरान आपके पंजे जुड़े होने चाहिए और हाथ भी शरीर के दोनों किनारों पर होने चाहिए।
  3. हाथ और पैर किसी भी प्रकार से मुड़े हुए ना हों और सर के नीचे तकिया इत्यादि ना हो।
  4. अब एक गहरी सांस लें और तुरंत ही पैरों, हाथों और धड़ को ऊपर उठाएं।
  5. इस दौरान आपको पूरी तरह से ऊपर नहीं उठना है बल्कि आपके शरीर के ये दो अंग, पैर और धड़ जमीन से तीस डिग्री के कोण पर हों जबकि हाथ जमीन के समानांतर हों।
  6. शरीर को जब आप ऊपर उठाएंगे तो सबसे पहले आप इसी मुद्रा में आएँगे। हाथों को जाँघों के ऊपर रखें लेकिन वो जाँघों को छू ना रहे हों।
  7. इस स्थिति में रहते हुए साँसों को लेते रहें और एक ही सांस को अंदर ना बाँध कर रखें।
  8. धीरे से सांस छोड़ें और शरीर को नीचे की तरफ ले आएं।
  9. इस क्रिया को कम से कम पांच बार करें।

फायदे: benefits

  1. इसको करते ही आपको पेट और उसके आसपास की जगह पर एक दर्द सा महसूस होगा। ये आपकी पेट और उसके आसपास की नसों और मांसपेशियों को मजबूत कर देगा।
  2. पैर और हाथ की मांसपेशियों को बेहतर बना देगा।
  3. हर्निया के रोगियों को इससे आराम मिलता है।

किसे नहीं करना चाहिए: Who should avoid Naukasana

  1. प्रेग्नेंसी और मासिक धर्म के शुरूआती दो दिनों में इसे नहीं करना चाहिए।
  2. माइग्रेन (Migraine), निम्न रक्त चाप (Low Blood Pressure) और जिन्हें भी कोई पुरानी असाध्य बीमारी हो उन्हें इसे नहीं करना चाहिए।
  3. अस्थमा और दिल के मरीजों को इस योगासन से बचना चाहिए।

ये भी पढ़ें: एक बार में पेट साफ करें ये योगासन, बार बार टॉयलेट जाना सेहत के लिए नुकसानदेह: Ek Baar Mein Pet Saaf Karein Ye Yogasan, Baar Baar Toilet Jaana Sehat Ke Liye Nuksaandeh

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें। स्पोर्ट्सकीड़ा हिंदी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है।

Edited by Amit Shukla
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now