Create
Notifications

रॉक क्लाइम्बिंग को आपके वर्कआउट रूटीन का हिस्सा क्यों होना चाहिए?

रॉक क्लाइम्बिंग
रॉक क्लाइम्बिंग
Amit Shukla

अगर आप सोच रहे हैं कि रॉक क्लाइम्बिंग से आपके शरीर को भला क्या लाभ होगा और क्या इसमें ऐसे कोई कारण भी हैं कि आप इसको अपने वर्कआउट का हिस्सा बनाएं तो आपको बताते चलें कि ये एक पूर्ण एक्सरसाइज है। आइए आपको इसके फायदे बताते हैं:

रॉक क्लाइम्बिंग आपके पूरे शरीर की एक्सरसाइज कर देता है

अगर आप जिम करना या फिर सिर्फ कोई एक एक्सरसाइज करते हैं तो आपके शरीर के किसी एक अंग या मसल पर असर होता है, जबकि रॉक क्लाइम्बिंग से आपके पूरे शरीर पर काम होता है। आपके शरीर के हर अंग का इस्तेमाल इस दौरान होता है जिसमें आपके हाथों की ऊंगलियां और पैरों के तलवे भी शामिल हैं। इसके साथ साथ आप बैलेंस बनाने में भी सफल रहते हैं जो आपके शरीर की ओवरऑल फिटनेस पर असर करता है।

ये भी पढ़ें: 5 बेहतरीन एक्सरसाइज जिनसे आप बिना वजन के भी एक धमाकेदार चेस्ट बना सकते हैं

रॉक क्लाइम्बिंग काफी आसान है

रॉक क्लाइम्बिंग देखने में मुश्किल लग सकती है लेकिन ये काफी आसान है और एक बार अगर आपको इसकी आदत पड़ गई तो आपको ये काफी आसान लगेगी।

रॉक क्लाइम्बिंग आपके कॉन्फिडेंस को बढ़ाता है

रॉक क्लाइम्बिंग में जैसे जैसे आप एक स्तर ऊपर जाते हैं तो आपका कॉन्फिडेंस बढ़ता है, और साथ ही ऊपर से नीचे देखने पर लगने वाला ड़र भी कम होने लग जाता है।

रॉक क्लाइम्बिंग आपके फोकस को बढ़ाने के साथ साथ कई मायनों में मदद करता है

इसको करते समय आप एक के बाद एक गोल सेट कर रहे होते हैं, जिसमें प्लानिंग और उसे करने की कला का इस्तेमाल होता है। ये आपको फायदा करता है, क्योंकि इन्हीं कारणों से आप एक अच्छे लीडर बन सकते हैं।

इसके साथ साथ अगर आपको अपने शरीर को एक ही एक्सरसाइज से फिट रखना है तो ये सबसे बेस्ट तरीका है।


Edited by मयंक मेहता

Comments

Fetching more content...