Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

भारतीय पुरुष हॉकी टीम टोक्‍यो ओलंपिक्‍स में मेडल के करीब: अल सादी

भारतीय हॉकी टीम
भारतीय हॉकी टीम
Vivek Goel
FEATURED WRITER
Modified 26 Feb 2021
न्यूज़

कोरोना वायरस महामारी के कारण एक साल से ज्‍यादा समय तक खेल गतिविधियां ठप्‍प पड़ी रही। अब भारतीय पुरुष हॉकी टीम इंटरनेशनल हॉकी में वापसी के लिए तैयार है और वह सबसे पहले यूरोप दौरे पर जा रही है। भारतीय टीम सबसे पहले जर्मनी के खिलाफ मुकाबला खेलेगी। इसके बाद वह बेल्जियम में ग्रेट ब्रिटेन से भिड़ेगी। भारतीय पुरुष हॉकी टीम अपने पहले प्रतिस्‍पर्धी मैच में रियो ओलंपिक्‍स की ब्रॉन्‍ज मेडलिस्‍ट जर्मनी से भिड़ेगी।

जर्मनी के कोच कैस एल सादी ने अनुभवी गोलकीपर पीआर श्रीजेश के नेतृत्‍व वाली भारतीय पुरुष हॉकी टीम का स्‍वागत करते हुए कहा, 'मैं बहुत खुश हूं कि इस मुश्किल समय में भारतीय हॉकी टीम जर्मनी आई है।' यूरोप जाने से पहले हॉकी इंडिरूा ने दक्षिण अफ्रीका में समर सीरीज के साथ पिच पर वापसी की कोशिश जरूर की थी, लेकिन कोविड-19 मामलों में बढ़ोतरी और वायरस के फैलाव को देखते हुए इसे रद्द कर दिया गया था। इसके बाद ढाका में एशियाई चैंपियंस ट्रॉफी रद्द कर दी गई।

अल सादी ने टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत में कहा, 'वो लोग बहुत अच्‍छे हैं और भारतीय संघ विशेषकर भारतीय कोच ग्राहम रीड के साथ उनके दोस्‍ताना संबंध हैं।' भारतीय पुरुष हॉकी टीम के नियमित कप्‍तान मनप्रीत सिंह ने निजी कारणों का हवाला देते हुए दौरे से अपना नाम वापस ले लिया है। इसके अलावा दो अनुभवी खिलाड़ी-ड्रैग फ्लिकर रुपिंदरपाल सिंह और स्‍ट्राइकर एसपी सुनील को भी नहीं चुना गया है। रुपिंदर पाल सिंह को चोट के कारण शामिल नहीं किया गया है जबकि सुनील को नहीं शामिल करने का कारण सामने नहीं आया है।

अल सादी ने कहा, 'मनप्रीत, रुपिंदर और सुनील विश्‍व स्‍तरीय खिलाड़ी हैं। प्रत्‍येक टीम को उनकी कमी खलेगी। मगर भारत के पास काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं, इसलिए मुझे भरोसा है कि वह मजबूत और प्रतिस्‍पर्धी टीम के साथ मैदान संभालेंगे।'

भारतीय टीम मेडल जीतने की दावेदार: अल सादी

जर्मनी के कोच आगामी टोक्‍यो ओलंपिक्‍स में भारत के संबंधित बातें की। अल सादी ने कहा, 'भारतीय टीम से तुलना करना महत्‍वपूर्ण है। पिछले कुछ सालों में टीम के प्रदर्शन में काफी सुधार आया है। भारतीय पुरुष हॉकी टीम टोक्‍यो ओलंपिक्‍स में मेडल जीतने की प्रबल दावेदार है।' 28 फरवरी और 2 मार्च को मेजबान टीम के खिलाफ दो मैचों से पहले सादी ने कहा कि जर्मन टीम की कोशिश आम ट्रेनिंग सेशन की है। अल सादी ने कहा, 'हम दो टेस्‍ट मैच खेलेंगे और कॉमन ट्रेनिंग सेशन करने की कोशिश करेंगे। इससे पहले कोविड-19 परीक्षण होगा। हम सभी के लिए बने सुरक्षित बायो बबल में काम करेंगे।'

जर्मनी के बाद भारतीय टीम 6 और 8 मार्च को बेल्जियम में ग्रेट ब्रिटेन के खिलाफ मुकाबला खेलेगी। भारत ने अपना आखिरी अंतरराष्‍ट्रीय मैच 22 फरवरी 2020 को खेला था, जब भुवनेश्‍वर में एफआईएच प्रो लीग के मुकाबले में उसने ऑस्‍ट्रेलिया की मेजबानी की थी।

Published 26 Feb 2021, 22:54 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now