×

For Faster Reading Experience
Download Sportskeeda App!

Download Now
Advertisement
Ad

वर्ल्ड कप 2019: विश्वकप के लिए कौन बेहतर विकल्प होगा ऋषभ पंत या दिनेश कार्तिक?

पढ़िये क्यों दिनेश कार्तिक बेहतर हैं ऋषभ पंत की तुलना में

Ankit Pasbola
ANALYST
Published Apr 14, 2019
Advertisement
Ad

इंग्लैण्ड में 30 मई से शुरू होने वाले आगामी विश्वकप के लिए 15 अप्रैल को भारत की पन्द्रह सदस्यीय टीम का ऐलान होना है। अधिकतर खिलाडियों का टीम में चयन लगभग तय है मगर कुछ खिलाड़ी को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है।

आगामी विश्वकप में भारतीय टीम विराट कोहली की कप्तानी में मैदान में उतरेगी। टीम के सबसे अनुभवी खिलाड़ी एमएस धोनी टीम के मुख्य विकेटकीपर बल्लेबाज होंगे। उनकी उपस्थिति टीम के लिए इस लिए भी महत्वपूर्ण है कि उनको खेल की विशेष समझ है। उनका अनुभव कठिन परिस्थितियों में टीम के हित में काम आने वाला है। उनके अलावा दूसरे विकेटकीपर को लेकर अब तक संशय बना हुआ है। यह तो तय है कि 15 अप्रैल को होने वाले चयन में या तो दिनेश कार्तिक को टीम में मौका मिलेगा या फिर ऋषभ पंत को।

दिनेश कार्तिक का पलड़ा है भारी

Enter caption

पिछले साल हुए एशिया कप में, टीम प्रबंधन ने दिनेश कार्तिक के साथ चौथे नंबर पर भरोसा जताया था। उन्होंने 4 पारियों में, 49 के शानदार औसत से 145 रन बनाए। हालाँकि, उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के लिए नहीं चुना गया था। हाल ही में ऑस्ट्रेलिया में समाप्त हुई श्रृंखला में कार्तिक ने भारत को दूसरे एकदिवसीय मैच में जीत दिलाई थी। तब उन्होंने 14 गेंदों पर 178.57 के स्ट्राइक रेट से 25 रन बनाए। उन्हें भारतीय टीम में मैच फिनिशर के रूप में देखा जाने लगा है। न्यूज़ीलैंड में कार्तिक ने 2 मैचों में 38 रन बनाए जिसके बाद उन्हें ऑस्ट्रेलिया के साथ घरेलू श्रृंखला में नहीं रखा गया।

विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने 77 एकदिवसीय पारियों में 31.04 की औसत से रन बनाए हैं। नंबर 4 पर उनका प्रदर्शन प्रभावशाली है। 18 पारियों में, उन्होंने 38.73 की औसत से 3 अर्धशतकों के साथ 426 रन बनाए हैं।

Advertisement
Ad

मुख्य चयनकर्ता एम.एस.के. प्रसाद ने कुछ समय पहले यह संकेत दिये थे कि ऋषभ पंत विश्वकप के लिए एकदिवसीय टीम में विकल्प हैं और विश्व कप टीम में जगह बना सकते हैं। बाएं हाथ के कीपर बल्लेबाज ने अब तक सिर्फ 5 वनडे खेले हैं और 23.25 की औसत और 131 की स्ट्राइक रेट से 93 रन बनाए हैं।

उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए सफलता का स्वाद चखा है, मगर उनकी बल्लेबाजी की शैली एकदिवसीय मुकाबले के लिए अधिक अनुकूल है । पंत ने बल्ले से इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन किया है ।

अगर दोनों के आंकड़ों का विश्लेषण करें तो निश्चित ही दिनेश कार्तिक का पलड़ा भारी लगता है। ऋषभ पंत को अभी सीमित ही मौके मिले हैं, मगर वह उन्हें भुनाने में असफल रहे हैं। ऋषभ पंत ज्यादातर गैर जिम्मेदाराना शॉट खेलकर आउट हुए हैं, जिसका खामियाजा उन्हें टीम से बाहर रहकर भी उठाना पड़ सकता है। नम्बर चार पर कार्तिक का अच्छा प्रदर्शन उनके दावे को और मजबूत बनाता है। यह देखना दिलचस्प होगा कि विश्वकप के लिए किसको टिकट मिल पायेगा।


Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Advertisement
Ad
वर्ल्ड कप 2019: ऋषभ पन्त को टीम में नहीं चुने जाने पर सुनील गावस्कर हुए नाराज
वर्ल्ड कप 2019: ऋषभ पंत को भारतीय टीम में शामिल न किये जाने पर दिलीप वेंगसरकर ने दी प्रतिक्रिया
5 कारण क्यों 2019 वर्ल्ड कप टीम में ऋषभ पंत का होना जरूरी है?
वर्ल्ड कप 2019: यह उचित समय है जब भारत को नंबर 4 के लिए एक अच्छे बल्लेबाज को लाना चाहिए
ऋषभ पंत निश्चित रूप से 2019 विश्व कप की रणनीति का हिस्सा हैं: एमएसके प्रसाद 
वर्ल्ड कप 2019: अंबाती रायडू को न चुना जाना दुर्भाग्यपूर्ण पर पंत को लेकर बहस करना बेकार है- गौतम गंभीर
3 भारतीय युवा खिलाड़ी जो वर्ल्ड कप 2019 टीम में सरप्राइज एंट्री ले सकते हैं 
वर्ल्ड कप 2019: भारतीय टीम में ऋषभ पंत को न चुने जाने से हैरान हैं दिल्ली के कोच रिकी पोंटिंग
विजय शंकर सुलझा सकते हैं नंबर 4 की पहेली! 
महेंद्र सिंह धोनी से मेरी तुलना न की जाए, वो महान हैं - ऋषभ पंत
Add a Comment