10 ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने दो देशों की तरफ से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेला है

Ankit
Enter caption

किसी भी खिलाड़ी के लिए अपने देश से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलना एक बड़ी बात होती है। मगर कुछ ऐसे खिलाड़ी भी हैं, जिन्होंने दो देशों से क्रिकेट खेला है। इनमें से ज्यादातर खिलाड़ी छोटे देश या फिर सहयोगी देशों ( एसोसिएट नेशन) से होते हैं, जो अपनी प्रतिभा के दम पर बड़े देशों से क्रिकेट खेलते हैं । इयोन मॉर्गन और डर्क नैंस जैसे खिलाड़ी उसी श्रेणी में आते हैं। कुछ ऐसे खिलाड़ी भी होते हैं जो टीम में अपनी जगह नही बना पाते और दूसरे देशों में अपना भविष्य तलाशते हैं। ल्यूक रोंची और वैन डेर मर्व उसी श्रेणी में आते हैं।

बॉयड रैनकिन इकलौते ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने दो देशों के लिए टेस्ट, वनडे और टी-20 क्रिकेट खेला है।

अब बात करते हैं, उन खिलाड़ियों की जिन्होंने दो देशों के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेला है:

#10 ल्यूक रोंची ( न्यूज़ीलैण्ड, ऑस्ट्रेलिया )

New Zealand v Bangladesh - ICC Champions Trophy

ल्यूक रोंची वर्तमान में न्यूज़ीलैंड टीम से खेलते हैं। उन्होंने वनडे क्रिकेट में अपना पर्दापण 27 जून 2008 को वेस्टइंडीज के खिलाफ किया। उन्होंने पहले ऑस्ट्रेलिया की ओर से अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेला। ऑस्ट्रेलिया की ओर से उन्होंने 4 वनडे व 3 टी-20 मैच खेले। रोंची ने 4 वनडे की 2 पारियों में 38 की औसत से 76 रन बनाए। जब ऑस्ट्रेलिया की टीम में मैथ्यू वेड और टिम पेन विकेटकीपिंग की रेस में आगे निकल गये तब उन्होंने न्यूज़ीलैंड की ओर से खेलना शुरू कर दिया।

ल्यूक रोंची का जन्म न्यूज़ीलैंड में हुआ है। उन्होंने न्यूज़ीलैंड की ओर से अब तक 81 वनडे मैच खेले हैं। उन्होंने न्यूज़ीलैंड की ओर से वनडे की 66 पारियों में 1321 रन बनाए हैं। यह रन रोंची ने 23.17 की औसत से बनाये हैं। इस बीच उन्होंने 1 शतक व 3 अर्धशतक भी अपने नाम किये हैं। उन्होंने न्यूज़ीलैंड की ओर से 4 टेस्ट भी खेले जिसकी 8 पारियों में 319 रन बनाए।

#9 बॉयड रैनकिन (इंग्लैण्ड, आयरलैंड)

Enter caption

बॉयड रैनकिन इकलौते ऐसे अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी है जिन्होंने दो देशों के लिए टेस्ट, वनडे व टी-20 क्रिकेट खेला है। वह लंबे कद के तेज गेंदबाज हैं ।उन्होंने आयरलैंड के लिए 1 टेस्ट, 53 वनडे व 28 टी-20 मैच खेले हैं जिसमें उनके नाम क्रमशः 3 टेस्ट, 74 वनडे और 29 टी-20 विकेट है।

वहीं रैनकिन ने इंग्लैंड की ओर से 1 टेस्ट ,7 वनडे व 2 टी-20 मैच खेले हैं, जिसमें उनके नाम क्रमशः 1टेस्ट, 10 वनडे और 1 टी-20 विकेट है।

#8 वैन डेर मर्व (दक्षिण अफ्रीका, नीदरलैंड)

Enter caption

वैन डेर मर्व का जन्म जोहान्सबर्ग, दक्षिण अफ्रीका में हुआ। उन्होंने पहले दक्षिण अफ्रीका के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेला। मर्व ने दक्षिण अफ्रीका के लिए 13 वनडे और 13 टी-20 मैच खेले। उन्होंने टी-20 में दक्षिण अफ्रीका के लिए अपना पर्दापण 29 मार्च 2009 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया। उन्होंने 13 टी-20 मैचों में 14 विकेट हासिल किए।

नीदरलैंड के लिए मर्व ने 12 टी-20 मैच खेले और 17 विकेट हासिल किए। उनका सर्वश्रेष्ठ बॉलिंग प्रदशर्न 3 रन पर 2 विकेट रहा। उन्होंने नीदरलैंड के लिए टी-20 में 154 रनों का भी योगदान दिया।

# 7 डर्क नैंस ( नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया)

Enter caption

डर्क नैंस ने नीदरलैंड के लिए अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरुआत की। उन्होंने अपना टी-20 डेब्यू 5 जनवरी 2009 को इंग्लैंड के खिलाफ किया। बायें हाथ के तेज गेंदबाज नैंस ने नीदरलैंड के लिए 2 टी-20 मैच खेले और 1 विकेट लिया।

ऑस्ट्रेलिया के लिए नैंस ने 15 टी-20 और एक वनडे मैच खेला। अपने 15 टी-20 मैचों में उन्होंने 27 विकेट लिए हैं। डर्क नैंस बायें हाथ के तेज गेंदबाज हैं।

# 6 इयोन मोर्गन ( आयरलैंड, इंग्लैंड )

Enter caption

मोर्गन इस श्रेणी के सबसे सफल बल्लेबाज हैं। डबलिन में जन्मे मोर्गन ने अपना पहला अंतर्राष्ट्रीय मैच आयरलैंड के लिये खेला। उन्होंने वनडे क्रिकेट में पर्दापण 5 अगस्त 2006 को स्कॉटलैंड के खिलाफ किया। उन्होंने आयरलैंड के लिए 23 वनडे खेले, जिसकी 23 पारियों में 35.42 की औसत से 744 रन अपने बनाए इस बीच उन्होंने 1 शतक व 5 अर्धशतक भी अपने नाम किये।

मॉर्गन ने इंग्लैंड के लिए भी 189 वनडे खेले हैं, जिसकी 176 पारियों में 39.01 की औसत से 5813 रन बनाए हैं। इस बीच उन्होंने 10 शतक व 36 अर्धशतक भी अपने नाम किये। उन्होंने इंग्लैण्ड के लिए 16 टेस्ट भी खेले, जिसकी 24 पारियों में 30.43 की औसत से 700 रन बनाये। इस समय वो इंग्लैंड के सीमित ओवरों की टीम के कप्तान भी हैं।

#5 एड जॉयस (इंग्लैंड, आयरलैंड)

Enter caption

एड जॉयस बायें हाथ के बल्लेबाज हैं, जिन्होंने आयरलैंड और इंग्लैंड के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेला। उन्होंने अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर में 77 वनडे खेले जिसकी 77 पारियों में उन्होंने 38 की औसत से 2622 रन अपने नाम किये। इस बीच उन्होंने 6 शतक व 15 अर्धशतक भी बनाये।

वहीं उन्होंने आयरलैंड की ओर से 1 टेस्ट, 61 वनडे और 16 टी-20 मैच खेले जबकि इंग्लैंड के लिए 17 वनडे और 2 टी-20 खेले।

#4 केप्लर वेसेल्स (ऑस्ट्रेलिया, दक्षिण अफ्रीका)

Enter caption

केप्लर वेसेल्स ने अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की शुरुआत ऑस्ट्रेलिया से की। बायें हाथ के बल्लेबाज वेसेल्स ने कुल 40 टेस्ट खेले जिसकी 71 पारियों में उन्होंने 41 की औसत से 2788 रन बनाए। इसी बीच उन्होंने 6 शतक व 15 अर्धशतक भी अपने नाम किये।

उन्होंने कुल 109 वनडे भी खेले और 3367 रन भी बनाये। केप्लर ने वर्ष 1982-1985 तक ऑस्ट्रेलिया और वर्ष 1992-1994 तक दक्षिण अफ्रीका के लिए क्रिकेट खेला।

#3 गुल मोहम्मद ( भारत, पाकिस्तान )

Enter caption

बायें हाथ के छोटे कद के बल्लेबाज गुल मोहम्मद ने भारत के लिए वर्ष 1946-1952 तक क्रिकेट खेला। उन्होंने भारत के लिए 8 टेस्ट खेले जिनकी 15 पारियों में उन्होंने 11 की औसत से 166 रन बनाए।

उन्होंने पाकिस्तान की ओर से मात्र एक टेस्ट खेला जिसकी 2 पारियों में उन्होंने 39 रन बनाए।

#2 आमिर इलाही ( भारत, पाकिस्तान)

आमिर इलाही ने अपना पर्दापण भारत की ओर से वर्ष 1947 को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ किया। उन्होंने भारत के लिए मात्र एक टेस्ट खेला जिसकी 2 पारियों में उन्होंने 17 रन बनाए।

लाहौर, पाकिस्तान में जन्मे आमिर वर्ष 1952/3 में पाकिस्तान के लिए बतौर लेग स्पिन गेंदबाज 5 टेस्ट खेले और 7 विकेट लिए। उनका बेस्ट प्रदर्शन 134 रन देकर 4 विकेट रहा।

#1 इफ्तिखार खान पटौदी ( इंग्लैंड, भारत )

Enter cap

इफ्तिखार अली खान पटौदी ने इंग्लैंड के लिए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बहु चर्चित एशेज सीरीज खेला। उन्होंने एशेज में इंग्लैंड की ओर से अपना डेब्यू किया और शतक बनाया। इंग्लैंड के लिए खेले गए तीनों मुकाबले (1932-34) में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 144 रन बनाए। उसके बाद उन्होंने 1946 में टीम इंडिया की ओर से इंग्लैंड के खिलाफ खेला।

उन्होंने अपने 6 टेस्ट की 10 पारियों में 199 रन बनाए। जिसमे भारत की ओर से 3 टेस्ट की 5 पारियों में 55 रन बनाए। उन्होंने इन 3 टेस्ट में भारत की कप्तानी भी की।

App download animated image Get the free App now