Create

यूएई टीम के दो खिलाड़ियों को 8 साल के लिए क्रिकेट से बैन किया गया

निरंजन

यूएई के पूर्व कप्तान मोहम्मद नावेद और सलामी बल्लेबाज़ शैमन अनवर बट को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने आठ साल के लिए सभी क्रिकेट से प्रतिबंधित कर दिया है। आईसीसी के एंटी-करप्शन ट्रिब्यूनल ने उन्हें जनवरी 2021 में एंटी-करप्शन कोड उल्लंघन करने का दोषी पाया था। उनका यह बैन 16 अक्टूबर 2019 से लागू माना जाएगा।

आईसीसी मेंस टी20 वर्ल्ड कप क्वालीफायर मैचों में करप्शन का प्रयास करने पर उनके ऊपर पहली बार 2019 में चार्ज लगे थे इसलिए बैन वहीँ से माना जाएगा। मुकाबले उस समय यूएई में खेले जा रहे थे। आईसीसी के इंटीग्रिटी यूनिट के जनरल मैनेजर एलेक्स मार्शल ने कहा कि अनवर बट और नावेद ने अपने देश के लिए उच्च स्तर पर क्रिकेट में प्रतिनिधित्व किया। यूएई के पूर्व कप्तान मोहम्मद नावेद और सलामी बल्लेबाज़ शैमन अनवर बट को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने आठ साल के लिए सभी क्रिकेट से प्रतिबंधित कर दिया है। आईसीसी के एंटी-करप्शन ट्रिब्यूनल ने उन्हें जनवरी 2021 में एंटी-करप्शन कोड को भंग करने का दोषी पाया था।

आगे मार्शल ने यह भी कहा कि मुझे खुशी है कि स्वतंत्र ट्रिब्यूनल ने सभी प्रकार के क्रिकेट से महत्वपूर्ण प्रतिबंध लगाए हैं और इसे किसी भी क्रिकेटर को चेतावनी के रूप में काम करना चाहिए जो गलत रास्ता अपनाता है।

ICC मेन्स टी 20 विश्व कप क्वालीफायर 2019 में एक मैच या मैचों के परिणाम, प्रगति, आचरण या अन्य पहलू को अनुचित तरीके से प्रभावित या ठीक करने या अन्यथा प्रभावित करने के लिए नियम 2। 1। 1 का उल्लंघन माना जाता है। भृष्ट आचरण के किसी भी घटना का खुलासा करने में विफल रहने पर आर्टिकल 2। 4। 4 का उल्लंघन माना जाता है।

नावेद को टी10 लीग 2019 के प्रतिभागियों के लिए अमीरात क्रिकेट बोर्ड के भ्रष्टाचार निरोधक संहिता के निम्नलिखित दो मामलों को तोड़ने के लिए ऊपर बताए गए दोनों आर्टिकल के उल्लंघन का दोषी पाया गया।


Edited by निरंजन

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...