Create

साल 2017 में भारत की तरफ से टी20 अंतर्राष्ट्रीय मैचों के 5 सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी

VIRAT

श्रीलंका के खिलाफ वानखेड़े स्टेडियम में हुए सीरीज के अंतिम टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के साथ ही भारतीय क्रिकेट टीम के लिए 2017 का साल समाप्त हो गया। विराट कोहली की इस टीम ने इस साल टेस्ट और एकदिवसीय मैचों से सफलता झंडे गाड़े और पूरे साल एक भी द्विपक्षीय सीरीज नहीं हारी। लेकिन, टी20 अंतरराष्ट्रीय के बारे में ऐसा नहीं बोल सकते क्योंकि वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत को एक सीरीज में हार झेलनी पड़ी थी। भारतीय टीम ने इस साल 13 अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच खेले हैं लेकिन उसमें सिर्फ 4 मैचों में हार झेलनी पड़ी थी। इस साल भारत की तरफ से 27 खिलाड़ियों ने टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में हिस्सा लिया, जिसमें परवेज रसूल, ऋषभ पंत, कुलदीप यादव, मोहम्मद सिराज और वाशिंगटन सुंदर ने भारत के लिए डेब्यू किया है। आईये आपको 5 ऐसे भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बताते है जिन्होंने इस साल जबरदस्त प्रदर्शन किया:

#5 विराट कोहली

विराट कोहली ने इस साल सभी प्रारूपों में जबरदस्त बल्लेबाजी कर इस साल को अपना बना लिया। कोहली ने इस साल भारत के लिये 10 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले और 37.37 की औसत और 153 की स्ट्राइक रेट से 299 रन बनाए, जिसमें दो अर्धशतकीय पारियां शामिल हैं। उनके खेल की सबसे बड़ी खासियत है उनके रन बनाने का तरीका। श्रीलंका के खिलाफ आर प्रेमदासा स्टेडियम में खेले गए टी20 मैच में उनके 82 रनों की पारी साल की सबसे बेहतरीन पारियों में गिनी जाती है। इस पारी में कोहली ने गेंदबाजों और फील्डरों के साथ खिलवाड़ करते हुए मैदान के हर कोने में शॉट खेले। वह इस साल इस प्रारूप में और भी ज्यादा रन बना सकते थे लेकिन उन्होंने श्रीलंका के खिलाफ हाल ही में हुए सीरीज से निजी वजहों से अपना नाम वापस ले लिया था।

#4 कुलदीप यादव

KULDEEP

चाइनामैन गेंदबाज़ कुलदीप यादव साल 2017 में भारतीय टीम की खोज कहे जा सकते हैं। भारत की तरफ से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाले पहले चाइनामैन कुलदीप ने इस साल लगभग हर मैच में अपनी छाप छोड़ी है। हाल के समय मे कलाई के गेंदबाज जिस तरह से सीमित ओवरों के खेल में अपना दबदबा कायम कर रहे हैं, वैसे में कुलदीप भारतीय टीम के लिए वरदान साबित हो रहे हैं क्योंकि टीम के अन्य कलाई गेंदबाज युजवेंद्र चहल और उनका गेंदबाजी का तरीका बिल्कुल अलग है। इसी वजह से टीम की गेंदबाजी में काफी विविधता रहती है। बाकी अन्य गेंदबाजों से कम मैच खेलने के बावजूद 8 मैचों में 12 विकेट के साथ टीम में विकेट लेने के मामले में दूसरे स्थान पर रहे हैं। इस दौरान उनका औसत 18.50 और इकॉनमी रेट 7.65 का रहा है।

#3 केएल राहुल

KL RAHUL

जब भारतीय टीम ने इस साल के में बीच में श्रीलंका का दौरा किया था तो टीम प्रबंधन ने साफ कर दिया था कि राहुल एकदिवसीय मैचों में चौथे क्रम पर बल्लेबाजी करेंगे लेकिन कर्नाटक के इस बल्लेबाज को इस सीरीज के सिर्फ 2 मैचों में ही इस स्थान पर मौका मिला और उसके बाद ऑस्ट्रेलिया, न्यूज़ीलैंड और श्रीलंका के खिलाफ हुए घरेलू एकदिवसीय सीरीज के लिए उनके टीम में नहीं चुना गया। लेकिन, टी20 अंतरराष्ट्रीय में मैचों में वह टीम के साथ जुड़े रहे और अपने निरन्तर प्रदर्शन से चयनकर्ताओं के सामने अपना दावा मजबूत कर लिया है। वह इस साल इस प्रारूप में भारत की तरफ से तीसरे सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे हैं और इसके साथ ही उन्होंने टीम की जीत में काफी अहम योगदान दिया है। उन्होंने 7 मैचों में 40 की औसत और 140 की स्ट्राइक रेट से 279 रन बनाए हैं। उन्होंने अपने इस प्रदर्शन से टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में सलामी बल्लेबाज के रूप में अपना स्थान पक्का कर लिया है।

#2 रोहित शर्मा

ROHIT SHARMA

इस साल टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों की सबसे अच्छी पारियों में एक थी रोहित शर्मा की 43 गेंदों पर 10 छक्के और 12 चौके की मदद से खेली गई 118 रनों की पारी। इस पारी के दौरान रोहित ने 35 गेंदों पर शतक पूरा किया जो अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच की सबसे तेज शतकीय पारी है। साल 2017 में रोहित ने तीनों ही प्रारूपों में बल्ले से शानदार प्रदर्शन किया है। साल की शुरुआत में चोट की वजह से कुछ मैचों में टीम से बाहर रहने के बावजूद यह इस प्रारूप में भारत की तरफ से रन बनाने के मामले में दूसरे स्थान पर रहे हैं। उन्होंने करीब 32 की औसत और 171.50 की शानदार स्ट्राइक रेट से 283 रन बनाए हैं। रोहित ने इस साल अंतरराष्ट्रीय टी20 मैचों में 16 छक्के लगाए हैं और उनकी इस तरह की बेखौफ बल्लेबाजी की वजह से वह विपक्षी टीम के लिए सबसे बड़ा खतरा बने रहते हैं। वह इस साल भारत की तरफ़ से अंतरराष्ट्रीय टी20 मैच में शतक बनाने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं।

#1 युजवेंद्र चहल

YUZVENDRA CHAHAL

अगर साल शुरू होने से पहले कोई यह बात बोलता कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए पिछले कुछ आईपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने वाले युजवेंद्र चहल टी20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में इस साल सिर्फ भारत के ही नहीं बल्कि दुनिया में सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज होंगे तो सभी को उसपर हंसी आती। लेकिन, भारतीय चयनकर्ताओं ने 27 वर्षी इस खिलाड़ी पर भरोसा दिखाया और चहल इस भरोसे पर खरे उतरते हुए अपने निरंतर प्रदर्शन से सीमित ओवरों की टीम में अपना स्थान पक्का कर लिया। उन्होंने 11 मैचों में 23 विकेट झटके हैं, जिसमें उनका औसत 14.13 और इकॉनमी 7.83 की रही है। यह आंकड़ा किसी भी स्पिन गेंदबाज के लिए काफी बेहतरीन है और सबसे बड़ी बात है कि उन्होंने प्रत्येक 10.8 गेंद पर विकेट हासिल किए हैं। यह आंकड़ा 10 विकेट से ज्यादा विकेट लेने वाले किसी भी गेंदबाज में सबसे बेहतरीन है। वह साल में अंतरराष्ट्रीय टी20 मैचों में तीन बार मैच 4 विकेट लेने वाले एकमात्र गेंदबाज भी हैं। इंग्लैंड के खिलाफ बेंगलुरु में उनका आंकड़ा 6/23 रहा और यह भारतीय गेंदबाजों का अंतरराष्ट्रीय टी20 में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है। लेखक- विग्नेश अनंतसुब्रमंयम अनुवादक- ऋषिकेश सिंह

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment