Create
Notifications

2018 में टेस्ट की चौथी पारियों में टीम इंडिया के बिखरने पर एक नज़र

Modified 08 Sep 2018
साल 2018 में टीम इंडिया की असली परीक्षा हो रही है, क्योंकि इस साल भारत एक के बाद एक विदेशी दौरे कर रहा है। साल की शुरुआत दक्षिण अफ़्रीकी दौरे से हुई थी और मौजूदा वक़्त में टीम इंडिया इंग्लैंड के मुश्किल दौरे पर है और टेस्ट सीरीज़ गंवा चुकी है। टीम इंडिया के पास अभी जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा, मोहम्मद शमी जैसे विश्व स्तर के पेस गेंदबाज़ हैं, जो एक मैच में 20 विकेट निकाल सकते हैं। लेकिन एक टीम को बेहतरीन टीम उस वक़्त समझा जाता है जब वो मुश्किल हालात का सामना करते हुए जीत हासिल करे। टीम इंडिया न तो दक्षिण अफ़्रीका में और न ही इंग्लैंड के दौरे पर टेस्ट में इतना अच्छा प्रदर्शन कर पाई। टेस्ट की चौथी पारी में भारत का रिकॉर्ड काफ़ी ख़राब रहा है। साल 2003 में एडिलेड टेस्ट में टीम इंडिया ने 200 से ज़्यादा रन के लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया था। हम यहां साल 2018 के उन टेस्ट मैच को लेकर चर्चा कर रहे हैं जहां टीम इंडिया टेस्ट मैच की चौथी पारी में बिखर गई: #4 इंग्लैंड बनाम भारत, एजबेस्टन, 2018 कप्तान विराट कोहली के 149 रन की मदद से टीम इंडिया ने पहली पारी में 274 रन बना लिए थे, हालाँकि भारत इंग्लैंड की पहली पारी के मुकाबले 13 रन पीछे था। इंग्लैंड ने अपनी दूसरी पारी में 194 रन की बढ़त बना ली थी। विराट कोहली ने टीम को संभालते हुए 51 रन बनाए। हार्दिक पांड्या ने भी कुछ ज़रूरी शॉट लगाए, लेकिन किसी अन्य बल्लेबाज़ ने कुछ ख़ास योगदान नहीं दिया। यही वजह रही कि इस छोटे से दिखने वाले लक्ष्य का पीछा करने में टीम इंडिया नाकाम रही।
1 / 4 NEXT
Published 08 Sep 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now