COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

एबी डीविलियर्स के 3 रिकॉर्ड जिन्हें भविष्य में तोड़ पाना है काफ़ी मुश्किल

ANALYST
44   //    29 May 2018, 10:45 IST
दक्षिण अफ्रीका के दिग्गज बल्लेबाज एबी डीविलियर्स ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लिया है। मिस्टर 360 डिग्री के नाम से मशहूर एबी डीविलियर्स का संन्यास वर्ल्ड क्रिकेट के लिए बहुत बड़ा झटका है। डीविलियर्स ने अपने क्रिकेट करियर के दौरान कई अहम पारियों को अंजाम दिया है। ये पारियां आज भी यादगार बनी हुई हैं।

वहीं एबी डीविलियर्स के नाम विश्व क्रिकेट में कई शानदार रिकॉर्ड भी दर्ज हैं। इनमें कई रिकॉर्ड अपने आप में ही उनकी आक्रामक बल्लेबाजी शैली को दर्शाती है। अपने 14 साल के करियर में एबी ने कई बार टीम का मोर्चा संभालकर अकेले दम पर टीम को जीत दिलाई है। ऐसे में एबी के नाम कई ऐसे रिकॉर्ड भी दर्ज हैं, जिन्हें शायद ही अब तोड़ पाना मुमकिन हो। एबी के नाम 228 एकदिवीसय मुकाबलों में 9577 रन तो वहीं 114 टेस्ट मैचों में एबी के नाम 8765 रन दर्ज हैं।

मैदान पर छक्के लगाने के मामले में एबी डीविलियर्स कभी पीछे नहीं रहे। एबी डीविलियर्स वनडे क्रिकेट में 200 छक्के लगाने वाले अपने देश के पहले बल्लेबाज हैं और वहीं दुनिया में वो ऐसा कारनामा करने वाले छठे बल्लेबाज हैं। डीविलियर्स के नाम इस वक्त वनडे में 204 छक्के हैं।

आइए जानते हैं एबी डीविलियर्स के क्रिकेट से जुड़े तीन खास रिकॉर्ड जिन्हें तोड़ पाना किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं होगा।

 

#3 एकदिवसीय क्रिकेट में 60 गेंदों में सबसे ज्यादा शतक (4)




 

एबी डीविलियर्स सीमित ओवरों के शानदार खिलाड़ियों में से एक थे। जब भी एबी मैदान पर आते तो विरोधी गेंदबाजों के पसीने छुटना स्वभावित था। एबी ने अपने एकदिवसीय क्रिकेट करियर में खेलते हुए 228 मुकाबलों में 25 शतक लगाए हैं।

शतकों के मामले में एबी भले ही आगे न हों लेकिन 60 गेंदों में सबसे ज्यादा एकदिवसिय शतक लगाने के मामले में एबी डीविलियर्स काफी आगे हैं। एबी डीविलियर्स के नाम वनडे क्रिकेट में 60 गेंदों के अंदर सबसे ज्यादा 4 शतक बनाने का रिकॉर्ड दर्ज है।

हालांकि अब ऐसा कोई खिलाड़ी फिलहाल मौजूद नहीं है जो एबी के इस रिकॉर्ड को तोड़ सके। इस लिस्ट में एबी के बाद पाकिस्तान के शाहिद आफरीदी तीन शतक और श्रीलंका के सनथ जयसूर्या दो शतकों के साथ बने हुए हैं। ऐसे में एबी का यह रिकॉर्ड तोड़ पाना किसी भी खिलाड़ी के लिए आसान नहीं रहने वाला है।
1 / 3 NEXT
ANALYST
Advertisement
Fetching more content...