Create
Notifications

3 बल्लेबाज जिन्होंने वनडे क्रिकेट में दो बार आउट होने के बीच 400 से ज्यादा रन बनाये

ऋषि
ANALYST
Modified 15 Sep 2018
क्रिकेट के खेल में बल्लेबाज के लिए सबसे महत्वपूर्ण होता है पारी के अंत तक टिक कर खेलना। कई बार हम देख चुके हैं कि बल्लेबाज अच्छी बल्लेबाजी करके शतक भी बनाता है लेकिन उनके आउट होने के बाद उनकी टीम मैच में पिछड़ जाती है। किसी भी मैच फिनिशर की सबसे बड़ी खासियत अंत तक बल्लेबाजी करना होता है। आज तक वनडे क्रिकेट में एक से बढ़कर एक फिनिशर आए हैं लेकिन 3 ही बल्लेबाजों ने दो बार आउट होने के बीच 400 या उससे ज्यादा रन बनाये हैं। इससे समझा जा सकता है कि लगातार मैच फिनिश करना कितना मुश्किल काम है। आईये आपको उन तीन बल्लेबाजों के बारे में बताते हैं: #3 लांस क्लूजनर,1999 (दक्षिण अफ्रीका)- 400 रन 1999 के विश्वकप का नाम लेते अगर कोई खिलाड़ी सबसे पहले याद आता है तो वह दक्षिण अफ्रीका के ऑलराउंडर लांस क्लूजनर ही हैं। भले ही दक्षिण अफ्रीका की टीम सेमीफाइनल में हारकर बाहर हो गई हो लेकिन क्लूजनर ने अपने प्रदर्शन से सबको प्रभावित किया था। वह विश्वकप के पहले विश्वकप 1999 से पहले न्यूजीलैंड दौरे पर उन्होंने 4 नाबाद पारियां खेली थी। विश्वकप में भी वह पहले 5 मैचों में नाबाद रहे। अंत में न्यूजीलैंड के खिलाफ ही वह आउट हुए। इस बीच उन्होंने 400 से रन बना दिए। वह दो बार आउट होने के बीच में 400 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज थे। स्कोर: 103 नाबाद, 45 नाबाद, 13 नाबाद और 35 नाबाद बनाम न्यूजीलैंड, 12 नाबाद बनाम भारत; 52 नाबाद बनाम श्रीलंका;  48 नाबाद बनाम इंग्लैंड; 52 नाबाद बनाम जिम्बाब्वे; 46 नाबाद बनाम पाकिस्तान और 4 बनाम न्यूजीलैंड।
1 / 3 NEXT
Published 15 Sep 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now