भारतीय क्रिकेटर्स की ज़िंदगी पर आधारित बॉलीवुड फ़िल्मों पर एक नज़र

Enter caption

भारत में फ़िल्मों का बोलबाला है और यहां हर साल हज़ारों फ़िल्में सिल्वर स्क्रीन पर दिखाई जाती हैं। ज़्यादातर फ़िल्में काल्पनिक होती हैं तो कई फ़िल्में किसी इंसान की ज़िंदगी पर आधारित होती हैं। पिछले कुछ सालों में विभिन्न खेलों के खिलाड़ियों के जीवन पर आधारित फ़िल्में बनाई गई हैं। बॉक्सर मैरी कॉम की ज़िंदगी पर बनी फ़िल्म साल 2014 में रुपहले पर्दे पर आई थी, जिसमें प्रियंका चोपड़ा ने लीड रोल किया था।

धावक मिल्खा सिंह की बायोपिक ‘भाग मिल्खा भाग’ साल 2013 में रिलीज़ हुई थी, जिसमें फ़रहान अख्तर ने मुख्य किरदार निभाया था। इसके अलावा हॉकी खिलाड़ी संदीप सिंह के संघर्ष पर आधारित फ़िल्म ‘सूरमा’ साल 2018 में बनी थी, जिसमें दिलजीत दोसांझ ने अभिनय किया था। पहलवान गीता और बबीता फोगट के करियर पर बेस्ड फ़िल्म ‘दंगल’ साल 2016 में फ़िल्मी पर्दे पर आई थी जिसे आमिर ख़ान ने प्रोड्यूस किया था।

चूंकि भारत में क्रिकेट की दीवानगी सिर चढ़कर बोलती है तो ऐसा मुमकिन नहीं है कि किसी क्रिकेटर की ज़िंदगी पर आधारित फ़िल्में न बनी हो। बॉलीवुड में कई ऐसी फ़िल्मों को निर्माण हुआ है जिसकी कहानी क्रिकेट के इर्द गिर्द घूमती है। हम यहां बॉलीवुड की 3 ऐसी फ़िल्मों की बात कर रहे हैं जो भारतीय क्रिकेटर्स की बायोपिक है।__________________________________________________________________________

#3 अज़हर

Enter caption

ये फ़िल्म भारत के पूर्व कप्तान मोहम्मद अज़हरुद्दीन की ज़िंदगी पर आधारित है। इसे साल 2016 में रिलीज़ किया गया था। इस फ़िल्म को एकता कपूर, शोभा कपूर और सोनी पिक्चर्स नेटवर्क्स ने प्रोड्यूस किया था। इस फ़िल्म का निर्देशन एंथनी डिसूज़ा ने किया था। फ़िल्म में अज़हरुद्दीन का किरदार इमरान हाशमी ने निभाया था। इसके अलावा नरगिस फ़ाकरी, प्राची देसाई और लारा दत्ता ने भी इस फ़िल्म में अभिनय किया था।

मूवी में दिखाया गया है कि कैसे अज़हर के नाना ने उन्हें क्रिकेट खेलने के लिए प्रेरित किया। उनके करियर में उछाल और गिरावट को इस फ़िल्म में पेश किया गया है। फ़िल्म में ये भी दिखाया गया है कि कैसे अज़हर पर मैच फ़िक्सिंग का आरोप लगा और लंबी कानूनी लड़ाई के बाद उन्हें कोर्ट ने बरी कर दिया। इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफ़िस पर करीब 156 करोड़ रुपये का कारोबार किया और ये मूवी कर्मशियल सक्सेस साबित हुई।

2 सचिन: अ बिलियन ड्रीम्स

Enter caption

ये फ़िल्म साल 2017 में रिलीज़ की गई थी, इसे डॉक्यूड्रामा-बायोग्राफ़िकल फ़िल्म की श्रेणी में रखा गया था। इसे जेम्स इर्सकाइन ने निर्देशित किया था और 200 नॉट आउट प्रोडक्शन्स के बैनर तले रवि भगचंदका और कार्निवल मोशन पिक्चर्स ने प्रोड्यूस किया था। इस मूवी में सचिन तेंदुलकर की निजी ज़िंदगी को विस्तार से दिखाया गया है। इस फ़िल्म में सचिन की ज़िंदगी के वो राज़ बताए गए हैं जिसे पहले लोग नहीं जानते थे।

इस फ़िल्म को हिंदी के अलावा, मराठी और अंग्रेज़ी में शूट किया गया था। इसके अलावा इसे तमिल और तेलुगू में भी डब किया गया था। मूवी का टाइटल ट्विटर कॉन्टेस्ट के ज़रिए तय किया गया था जिसका ऐलान ख़ुद सचिन तेंदुलकर ने किया था। इस फ़िल्म को छत्तीसगढ़, केरल, महाराष्ट्र और ओडिशा में टैक्स फ़्री कर दिया गया था। इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफ़िस पर 76 करोड़ से ज़्यादा का कारोबार किया।

#2 एमएस धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी

Enter caption

इस फ़िल्म को नीरज पांडेय ने निर्देशित किया था जिसे साल 2016 में रिलीज़ किया गया था। ये फ़िल्म फॉक्स स्टार स्टूडियोज़ के बैनर तले रुपहले पर्दे पर आई थी। ये मूवी भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की ज़िदगी पर आधारित है। इस फ़िल्म में धोनी की भूमिका सुशांत सिंह राजपूत ने निभाई है। इसके अलावा अनुपम खेर, दिशा पाटनी, कियारा आडवाणी और भूमिका चावला ने भी अभिनय किया है।

ये बायोपिक बनाने का आइडिया सबसे पहले महेंद्र सिंह धोनी के मैनेजर और दोस्त अरुण पांडेय को आया था। इस फ़िल्म को दुनियाभर के क़रीब 61 देशों में रिलीज़ किया गया था। मूवी को तमिल, तेलुगू और मराठी में भी डब किया गया था। इस बायोपिक का बजट 104 करोड़ रुपये का था और बॉक्स ऑफ़िस पर इसकी कमाई करीब 216 करोड़ की हुई थी। समीक्षकों ने इस फ़िल्म को पॉज़िटिव रिव्यू दिए थे और सुशांत के अभिनय को काफ़ी सराहा था।

लेखक- शारिक़ुल होदा

App download animated image Get the free App now