Create
Notifications

3 बल्लेबाज़ जो वर्ल्ड कप 2019 में अम्बाती रायडू की जगह भारतीय टीम में आ सकते हैं

Image result for no.4 for India
Fambeat Hindi
visit

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गए तीसरे एकदिवसीय मुकाबले मे भारत ने 230 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए सात विकेट से मैच जीता। महेंद्र सिंह धोनी और केदार जाधव की चौथी विकेट की नाबाद साझेदारी ने भारत को 2-1 से श्रृंखला में जीत दिलाई। भारत के सलामी बल्लेबाजों ने संभलकर शुरुआत की लेकिन उसे एक बड़े स्कोर में बदलने में नाकाम रहे। रोहित शर्मा के जल्दी आउट होने के बावजूद भी धवन और कोहली ने दूसरे विकेट के लिए अच्छी साझेदारी निभाते हुए, भारत को मैच में बनाए रखा।

पहले दो एकदिवसीय में नाकाम रहे अंबाती रायडू को मेलबर्न में बाहर बैठना पड़ा। नंबर 4 के स्थान का प्रश्न, जो एशिया कप से पहले भारतीय प्रबंधन के लिए एक परेशानी का सबब बना हुआ था, विश्व कप से कुछ महीने पहले वह उलझन फिर से आ खड़ी हुई है। रायडू जो नंबर 4 के लिए सही फिट बैठते दिखाई दे रहे थे, लेकिन वह अपने प्रदर्शन से दोनों मैचों में उम्मीदों पर खरे नहीं उतर पाए। यही कारण था की विराट कोहली ने उन्हें तीसरे और आखिरी वनडे से बाहर किया और उनकी जगह केदार जाधव को शामिल किया।

भारत को एक महीने में अपने अंतिम एकादश को आखिरी रूप देना होगा क्योंकि आईसीसी वर्ल्ड कप केवल चार महीनों में शुरू हो जायेगा। कई होनहार क्रिकेटर, अगर मौका दिया जाए तो नंबर 4 पर प्रभाव डाल सकते हैं।

आईये नजर डालें तीन संभावित खिलाड़ियों पर जो नंबर 4 की जगह के लिए उचित े है:


#3. शुभमन गिल

Image result for shubman gill

केएल राहुल की जगह न्यूजीलैंड दौरे के लिए भारतीय टीम का हिस्सा बने होनहार और युवा बल्लेबाज शुभमन गिल, मध्यक्रम की गुत्थी सुलझा सकते हैं। शुभमन ने आईपीएल में अपनी फ्रैंचाइज़ी कोलकाता नाइट राइडर्स के लिए खेलते हुए, पिछले संस्करण में 33.83 की औसत से 203 रन बनाए थे। वह अनुभवहीन हो सकते है, लेकिन पर्याप्त मौके दिए जाने पर ही उनकी कीमत साबित होगी। मोहाली से आए इस क्रिकेटर ने वर्तमान रणजी टूर्नामेंट की दस पारियों में 98.75 की औसत से 790 रन बनाये।

गिल को 2018 अंडर -19 टूर्नामेंट में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट चुना गया और अब वह अपनी प्रतिभा को अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर साबित करने के लिए मौके के इंतज़ार में हैं । उन्होंने प्रथम श्रेणी के नौ मैचों में 77.78 की औसत से 1089 रन बना अपना सीनियर क्रिकेट जगत में शानदार आगाज किया है। गिल रोटेटर और स्ट्रोक प्लेयर का रोल बखूबी अदा कर सकते हैं जो विश्व कप में भारत की नंबर 4 की तलाश पूरी कर सकता है।

प्रथम श्रेणी: मैच- 9, रन- 1089, औसत- 77.78, सर्वश्रेष्ठ स्कोर- 268

टी 20: मैच- 13, रन- 203, औसत- 33.83, सर्वश्रेष्ठ स्कोर- 57

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2. मनीष पांडे

Image result for Manish PAndey

कर्नाटक के इस बल्लेबाज ने 2015 में ज़िम्बाब्वे के खिलाफ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण किया था, जो कि अपनी अपार प्रतिभा के बावजूद अंडररेटेड खिलाड़ियों में से एक है। मनीष पांडे इंडियन प्रीमियर लीग के इतिहास में पहले भारतीय खिलाड़ी थे जिन्होंने इस लीग में शतक बनाया था।

पांडे का आईपीएल रिकॉर्ड सफलता की कहानी बयां करता हैं , जिसमे उन्होंने 118 मैचों में 28.08 की औसत से 2499 रन बनाए हैं। 2009-10 के रणजी सीजन में इस स्टाइलिश बल्लेबाज के लिए बहुत ही यादगार सीजन था क्योंकि वह सीजन में सबसे ज्यादा 882 रन बनाने वाले खिलाड़ी थे, जिसमें चार शतक और पांच अर्धशतक शामिल थे।

पांडे ने छोटे अंतर्राष्ट्रीय करियर में 23 एकदिवसीय मैचों में 36.67 के औसत से केवल 440 रन बनाये हैं । एससीजी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनकी मैच विजेता 104 * रन की पारी एकदिवसीय मैचों में उनके द्वारा खेली गई सबसे यादगार पारी है। वह वर्तमान में इंडियन प्रीमियर लीग में सनराइजर्स हैदराबाद का हिस्सा हैं। पांडे की अनुभवी बल्लेबाजी और फील्ड में चुस्ती टीम के लिए इन बड़े मौकों पर काफी मददगार हो सकती है। पांडे नंबर चार पर एक भरोसेमंद खिलाड़ी के तौर पर खरे उतारते हैं।

एकदिवसीय: मैच- 23, रन- 440, औसत- 36.67, उच्चतम स्कोर- 104

टी -20 अंतरराष्ट्रीय: मैच- 28, रन- 538, औसत- 41.38, उच्चतम स्कोर- 79

आईपीएल: मैच- 118, रन- 2499, औसत- 28.08, उच्चतम स्कोर- 114

#1. श्रेयस अय्यर

Image result for Shreyas Iyer

इस युवा और स्टाइलिश बल्लेबाज ने वर्ष 2017 में न्यूजीलैंड के खिलाफ पदार्पण किया था। वह वर्तमान में इंडियन प्रीमियर लीग में दिल्ली फ्रेंचाइजी के कप्तान हैं। श्रेयस अय्यर का आईपीएल करियर सफल रहा है, जिन्होंने अपने 46 आईपीएल मैचों में 30.45 की औसत से 1218 रन बनाए।

2015-16 रणजी सत्र और विजय हजारे ट्रॉफी इस मुंबई के बल्लेबाज के लिए बहुत ही शानदार रही क्योंकि उन्होंने 73.39 की औसत से 1321 रन बनाए, जिसमें सात अर्द्धशतक और चार शतक शामिल थे।

अय्यर का वनडे करियर बहुत छोटा रहा है, उन्होंने अपने 6 एकदिवसीय मैचों में 42 की अच्छी औसत से 210 रन बनाए। उनकी एक यादगार पारी 2017 में श्रीलंका के खिलाफ आई थी। अय्यर बहुमुखी प्रतिभा के साथ नंबर 4 स्थान पर बल्लेबाजी कर सकते हैं और निचले मध्य क्रम से बोझ उठाने में मदद कर सकते हैं।

एकदिवसीय: मैच- 6, रन- 210, औसत- 42, उच्चतम स्कोर- 88

टी -20 अंतरराष्ट्रीय: मैच- 6, रन -83, औसत- 16.6, उच्चतम स्कोर- 30

आईपीएल: मैच- 46, रन- 1218, औसत- 30.45, उच्चतम स्कोर- 96

Edited by Naveen Sharma
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now