Create
Notifications

3 दिग्गज भारतीय खिलाड़ी जिन्हें टीम का कप्तान बनने का मौका कभी नहीं मिला

लक्ष्मण-जहीर
लक्ष्मण-जहीर
Naveen Sharma
FEATURED WRITER

भारतीय टीम ने सौरव गांगुली की कप्तानी से लेकर विराट कोहली तक कई कप्तान देखे और सफलता भी इन दो दशकों में सबसे ज्यादा मिली। इस दौरान कई दिग्गज खिलाड़ियों ने बतौर कप्तान टीम की कमान संभाली और टीम को आगे बढ़ाने में अहम भूमिका अदा की। टेस्ट, वनडे और टी20 तीनों प्रारूप में भारतीय टीम का प्रदर्शन उच्च स्तरीय रहा। गांगुली और धोनी को सफलतम कप्तानों की सूची में सबसे आगे रखा जा सकता है। इस दौरान कुछ दिग्गज खिलाड़ी ऐसे भी रहे जिन्हें एक बार भी टीम की कमान सँभालने का मौका नहीं मिला। इस आर्टिकल में ऐसे ही नामों पर चर्चा की गई है।

यह भी पढ़ें: 3 अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी जिनकी मैदान पर चोट के बाद मौत हो गई

जहीर खान- बाएँ हाथ के इस तेज गेंदबाज ने अपनी स्विंग, गति और रिवर्स स्विंग से विदेशी बल्लेबाजों के पसीने छुड़ाए हैं। 2003 और 2011 के वर्ल्ड कप में जहीर ने अपनी धारदार गेंदबाजी के दम पर टीम की सफलता में चार चाँद लगाए। हालांकि मुख्य गेंदबाज और दिग्गज नाम होने के बाद भी उन्हें भारतीय टीम का कप्तान बनने का मौका कभी नहीं मिला।

वीवीएस लक्ष्मण- कोलकाता में 2001 में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे टेस्ट मैच की उस पारी वाले खिलाड़ी लक्ष्मण को कौन भूल सकता है। कलाई का यह जादूगर भारत के मुख्य टेस्ट बल्लेबाजों में से एक रहा। वनडे क्रिकेट में उन्हें ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला लेकिन टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने टीम के लिए कई बेहतरीन पारियां खेली। लक्ष्मण को भी भारतीय टीम का कप्तान बनने का सौभाग्य एक बार भी नहीं मिला।

युवराज सिंह- सिक्सर किंग के नाम से मशहूर युवराज सिंह के टी20 वर्ल्ड कप में लगाए लगातार छह छक्कों को कौन भूल सकता है। धोनी से पहले ही उन्होंने भारत के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में पदार्पण कर लिया था और वनडे क्रिकेट में मध्यक्रम के अहम खिलाड़ी बन गए। कई मैच जिताऊ पारियां टीम के लिए खेलने वाले युवराज सिंह को एक बार भी भारतीय टीम की कप्तानी करने का मौका नहीं मिला।

Edited by Naveen Sharma
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now