Create

3 भारतीय खिलाड़ी जो एशिया कप में जगह नहीं बना पाए लेकिन जिम्बाब्वे दौरे पर अपनी छाप छोड़ना चाहेंगे 

जिम्बाब्वे के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने को तैयार ये 3 खिलाड़ी
जिम्बाब्वे के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करने को तैयार ये 3 खिलाड़ी
Ayushman Chaudhary

आगामी एशिया कप (Asia Cup 2022) के लिए भारतीय टीम (Indian Cricket Team) का चयन हो चुका है। भारतीय टीम के कई प्रमुख खिलाड़ियों के लिए चयनकर्ताओं के फैसले निराशाजनक रहे। कई खिलाड़ियों के लगातार टीम से जुड़े रहने और अच्छा प्रदर्शन करने के बावजूद उन्हें एशिया कप की टीम में शामिल नहीं किया गया। ऐसे में 18 अगस्त से शुरू हो रही जिंबाब्वे के खिलाफ तीन एकदिवसीय मैचों की श्रंखला (IND vs ZIM) में कई खिलाड़ियों के लिए टी20 विश्व कप से पहले साउथ अफ्रीका और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाली श्रृंखलाओं के लिए टीम में जगह बनाने का एक बेहतरीन मौका है।

साथ ही कई प्रमुख खिलाड़ियों की गैरमौजूदगी में कुछ खिलाड़ी वनडे टीम में अपनी जगह पक्की करने की तरफ भी देखेंगे। जिंबाब्वे दौरे में भारतीय टीम की कमान लंबे समय बाद अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में वापसी कर रहे केएल राहुल संभालेंगे। 18 से 22 अगस्त तक खेले जाने वाले तीन वनडे मैचों में कई भारतीय खिलाड़ी अपने खेल से चयनकर्ताओं को प्रभावित करना चाहेंगे।आज हम ऐसे ही 3 भारतीय खिलाड़ियों के बारे में बात करेंगे जो एशिया कप में ना चुने जाने के बाद जिंबाब्वे दौरे में अपनी छाप छोड़ने की कोशिश करेंगे।

ये 3 खिलाड़ी ज़िम्बाब्वे दौरे पर अच्छा करते हुए अपने आप को साबित करना चाहेंगे

#3 इशान किशन

अर्धशतक मारने के बाद दर्शकों का अभिवादन करते इशान किशन
अर्धशतक मारने के बाद दर्शकों का अभिवादन करते इशान किशन

आक्रामक सलामी बल्लेबाज इशान किशन लंबे समय से भारतीय टी20 टीम के साथ जुड़े हुए हैं।पिछली दो टी-20 श्रृंखला में निरंतर न रह पाने के बावजूद इशान इस साल भारत की ओर से टी20 में दूसरे सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। इशान किशन को बैकअप ओपनर के तौर पर मौके दिए जा रहे थे लेकिन केएल राहुल के वापस आते ही उन्हें टी20 टीम में अपनी जगह गंवानी पड़ी।

इशान को ज़िम्बाब्वे दौरे के लिए चुना गया है। हालांकि यहाँ टॉप ऑर्डर में मौका मिलने की उम्मीद कम है लेकिन अगर इशान को किसी भी पोजीशन के लिए चुना जाता है, तो वह अच्छा करते हुए भविष्य के लिए दावेदारी पेश करना चाहेंगे।

#2 संजू सैमसन

भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन
भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज संजू सैमसन

घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में अपने बेहतरीन प्रदर्शन से फैंस के दिलों में जगह बना चुके संजू सैमसन को अब तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में निरंतर मौके नहीं मिले हैं। 2015 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू करने वाले केरल के विकेटकीपर बल्लेबाज ने अब तक कुल 16 टी20 मैच ही खेले हैं। इस साल संजू का प्रदर्शन टी20 क्रिकेट में काफी अच्छा रहा है जहां उन्होंने छह मैचों की पांच पारियों में 44.75 के बेहतरीन औसत और 158.41 के शानदार स्ट्राइक रेट के साथ 179 रन बनाए हैं। अपने बल्ले से सबको प्रभावित करने के बावजूद एशिया कप की टीम के लिए संजू के नाम पर मुहर नहीं लगी और एक बार फिर उन्हें भारतीय चयनकर्ताओं की तरफ से निराशा हाथ लगी।

संजू को जिंबाब्वे दौरे के लिए बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज टीम में शामिल किया गया है। तीन वनडे मैचों में अच्छा प्रदर्शन कर संजू सैमसन अपनी उपयोगिता साबित करना चाहेंगे।

#1 शार्दुल ठाकुर

शार्दुल ठाकुर और युजवेंद्र चहल
शार्दुल ठाकुर और युजवेंद्र चहल

एक समय भारतीय टीम के प्रमुख ऑलराउंडर के तौर पर खुद को स्थापित कर चुके शार्दुल ठाकुर पिछले कुछ महीनों से टी20 टीम में खेलने का मौका ढूंढ रहे हैं। इस साल आईपीएल में चेन्नई सुपर किंग्स के द्वारा न रिटेन किए जाने पर शार्दुल ठाकुर को दिल्ली कैपिटल्स ने अपनी टीम में शामिल किया, जहां उन्होंने ठीक-ठाक प्रदर्शन करते हुए 14 मुकाबलों में 15 विकेट हासिल किए और 120 रन बनाए।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इस साल शार्दुल ठाकुर ने मात्र एक टी20 मैच खेला है जिसमें उन्होंने 33 रन देकर दो विकेट हासिल किए थे। वहीं वनडे में सात मैचों में 10 विकेट के साथ पांच पारियों में बल्लेबाजी करते हुए शार्दुल ने एक नाबाद अर्धशतक की बदौलत 108 रन बनाए। बतौर ऑलराउंडर वनडे में शार्दुल ठाकुर का प्रदर्शन अच्छा रहा इसके बावजूद उन्हें टी20 में मौके नहीं दिए गए और साथ ही एशिया कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में भी उनके नाम पर कोई चर्चा नहीं हुई।

उन्हें जिंबाब्वे दौरे के लिए टीम में शामिल किया गया है। ऐसे में शार्दुल अच्छा प्रदर्शन कर भविष्य के लिए खुद की एक मजबूत दावेदारी पेश करना चाहेंगे।


Edited by Prashant Kumar

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...