Create
Notifications

3 भारतीय खिलाड़ी जिनकी जल्द हो सकती है वनडे टीम में वापसी

ऋषि
visit

भारतीय टीम का हालिया वनडे फॉर्म कुछ खास नहीं रहा है। टीम को इंग्लैंड के खिलाफ टी20 सीरीज जीतने के बाद वनडे में करारी हार मिली थी। भारतीय टीम पहले टेस्ट भी हार चुकी है और अब उसका पूरा ध्यान दूसरे मैच पर टिका हुआ है। विश्वकप अब ज्यादा दूर नहीं है ऐसे में भारतीय टीम मैनेजमेंट की एक नजर उस तरफ भी है। इसके अलावा भारत का अगला विदेशी दौरा ऑस्ट्रेलिया का होगा जहाँ टीम 3 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के साथ ही 3 वनडे और 4 टेस्ट मैच खेलेगी। इसके साथ ही भारतीय टीम को वनडे क्रिकेट में अपने मध्यक्रम की परेशानी की जल्द दूर करना होगा। भारतीय चयन समिति के पुराने पैमाने को देखें तो जल्द ही कुछ खिलाड़ियों की वनडे और टी20 टीम से छुट्टी होने वाली है, जिसमें मनीष पांडे और सुरेश रैना जैसे खिलाड़ियों का नाम शामिल है। आज इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे खिलाड़ियों के बारे में बतायेंगे जिन्हें जल्द ही सीमित ओवरों के खेल में भारतीय टीम में शामिल किया जा सकता है: #3 ऋषभ पंत ऋषभ पंत को आयरलैंड और इंग्लैंड दौरे में टीम में जगह न मिलना एक चौंकाने वाला फैसला था। आईपीएल में 600 से ज्यादा रन बनाकर ऑरेंज कैप जीतने वाले पंत को ना तो वनडे टीम में जगह मिली और ना टी20 टीम में। वनडे मैच में वापसी कर रहे रैना इंग्लैंड में पूरी तरह फ्लॉप रहे। ऐसे में टीम में उनकी जगह पंत को शामिल किये जाने की पूरी उम्मीद है। वहीं टी20 की बात करें तो बार- बार मौका मिलने के बाद भी मनीष पांडे पूरी तरह फ्लॉप रहे हैं। आयरलैंड जैसी टीम के खिलाफ उन्होंने 20 गेंदों पर 21 रन बनाये। पांडे की जगह पर पंत से अच्छा विकल्प कोई नहीं हो सकता। वनडे हो या टी20 भारतीय टीम पूरी तरह अपने टॉप-3 पर निर्भर रहती है। ऐसे में अगर चौथे या पांचवे क्रम पर ऋषभ पंत होंगे तो टॉप-3 पर से दबाव कम होगा । #2 केदार जाधव आईपीएल 2018 के पहले ही मैच में चोट की वजह से पूरी आईपीएल से बाहर रहे जाधव इंग्लैंड दौरे तक भी फिट नहीं हो पाए थे। उनकी जगह पर टीम में अम्बाती रायडू को मौका दिया गया था लेकिन यो-यो टेस्ट में फेल होने की वजह से वह भी इंग्लैंड नहीं जा सके। अंत में सुरेश रैना को दौरे पर जाने का मौका मिला गया। रैना ने वनडे सीरीज में 47 रन बनाये जिस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 70 का ही रहा। जाधव बल्ले के साथ ही गेंद से भी विकेट चटका सकते हैं। साथ ही रैना की तरह तेज गेंदबाजी खेलना उनके लिए परेशानी का विषय भी नहीं है। इस परिस्थिति में साफ है कि एशिया कप में वह वनडे मैचों में वापसी कर ही लेंगे। #1 मोहम्मद शमी भारतीय टीम इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज हारी है उसमें तेज गेंदबाजों का विफल होने भी बहुत बड़ा कारण है। चोट की वजह से जसप्रीत बुमराह के बाहर होने की वजह से टीम की तेज गेंदबाजी पूरी तरह पटरी से उतर गई। भारत के पास उनके बैकअप के रूप में कोई ऐसा गेंदबाज नहीं है जो मैच पर उनके जैसा प्रभाव छोड़ पाए। इस स्थिति में भारतीय टीम अपने अनुभवी गेंदबाज की तरफ देखना चाहेगी। पारिवारिक विवाद और फिर आईपीएल में खराब प्रदर्शन की वजह से उन्हें यूके दौरे पर सीमित ओवरों की टीम में जगह तो नहीं मिली लेकिन वह टेस्ट टीम का हिस्सा हैं। पहले टेस्ट मैच में उन्होंने इंग्लैंड के 3 बल्लेबाजों को पवेलियन भेजकर वापसी की उम्मीद दिखाई है। अगर बाकि मैचों में उनका प्रदर्शन अच्छा रहता है तो जल्द ही उनकी वापसी सीमित ओवरों की टीम में भी हो जाएगी।

Edited by Staff Editor
Article image

Go to article
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now