3 भारतीय खिलाड़ी जिनका 2022 Asia Cup में सही से इस्तेमाल नहीं हुआ 

Neeraj
एशिया कप 2022 के अपने आखिरी मैच में भारतीय टीम ने शानदार जीत दर्ज की
एशिया कप 2022 के अपने आखिरी मैच में भारतीय टीम ने शानदार जीत दर्ज की

बीती रात (8 सितम्बर) भारतीय टीम (Indian Cricket Team) ने एशिया कप (Asia Cup) 2022 के सुपर 4 में अपना आखिरी मैच अफगानिस्तान (Afghanisthan Cricket Team) के विरुद्ध खेला, जिसमें भारत ने 101 रनों से जीत दर्ज करते हुए टूर्नामेंट के अपने सफर को जीत के साथ समाप्त किया। एशिया कप के शुरू होने से पहले ऐसा अनुमान लगाया जा रहा था कि फाइनल में भारत और पकिस्तान की टीमें आमने-सामने होंगी क्योंकि ये दोनों टीमों टूर्नामेंट की सबसे मजबूत टीमें थीं। लेकिन ग्रुप स्टेज में बेहतरीन प्रदर्शन करने के बाद सुपर 4 में भारत को लगातार दो मैचों शिकस्त मिली इसी वजह से भारत फाइनल की रेस से बाहर हो गया था।

एशिया कप में भारत के कुछ खिलाड़ियों ने पूरे टूर्नामेंट के दौरान बेहरीन प्रदर्शन किया जबकि कुछ खिलाड़ियों को टीम मैनेजमेंट ने टूर्नामेंट के दौरान सही से इस्तेमाल नहीं किया, और नए प्रयोग करने पर ज्यादा जोर दिया। यह भी एक बड़ा कारण रहा है कि भारत इस बार एशिया कप के फाइनल में अपनी जगह बनाने में नाकाम रहा है। इस आर्टिकल में हम उन 3 भारतीय खिलाड़ियों का जिक्र करेंगे जिनका एशिया कप में सही से इस्तेमाल नहीं हुआ।

ये 3 भारतीय खिलाड़ी सही से इस्तेमाल नहीं किये गए

#3 अक्षर पटेल

अक्षर पटेल (image - Espn)
अक्षर पटेल (image - Espn)

रविंद्र जडेजा एशिया कप में दो मैच खेलने के बाद घुटने की चोट की वजह से टूर्नामेंट से बाहर हो गए थे। उनकी जगह ऑल राउंडर अक्षर पटेल को रिप्लेसमेंट के तौर पर टीम में शामिल किया गया था। एशिया कप के शुरू होने से पहले अक्षर ने वेस्टइंडीज और जिम्बाब्वे दौरे पर मिले मौकों पर गेंद और बल्ले दोनों से ही उम्दा प्रदर्शन किया था। इसके बावजूद उन्हें सुपर 4 के पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ मैच की प्लेइंग XI में नहीं चुना गया।

पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ हुए मैचों में भारतीय टीम में एक प्रमुख गेंदबाज की कमी खली थी। अगर उन मैचों में अक्षर टीम का हिस्सा होते तो वह इस कमी को पूरा कर सकते थे, साथ में जरूरत पड़ने पर बल्ले से भी बड़े शॉट खेल सकते थे।। अक्षर को टूर्नामेंट में सिर्फ एक मैच खेलने को मिला था।

#2 दीपक हूडा

दीपक हूडा (Image - Espn)
दीपक हूडा (Image - Espn)

दाएं हाथ के ऑल राउंडर दीपक हूडा को एशिया कप में तीन मैच खेलने को मिले। इस दौरान उन्होंने दो मैचों में बल्लेबाजी की जिसमें उन्होंने क्रमश: 16, 3 रन बनाये। इन दोनों मैचों में हूडा को बल्लेबाजी करने के लिए सात नंबर पर भेजा गया था। टीम मैनेजमेंट का हूडा पर किया गया ये प्रयोग बिल्कुल फ्लॉप रहा।

गौरतलब है कि, हूडा ने अपने टी20 अंतरराष्ट्रीय करियर में सबसे ज्यादा रन तीन नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए बनाये हैं। तीन नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए हूडा ने आयरलैंड के विरुद्ध शतक भी जड़ा था। इसके अलावा हूडा का गेंदबाज के तौर भी अहम मैचों में इस्तेमला नहीं हुआ, जिसका खामियाजा कहीं न कहीं टीम को उठाना पड़ा।

#1 दिनेश कार्तिक

दिनेश कार्तिक (Image - Espn)
दिनेश कार्तिक (Image - Espn)

दाएं हाथ के बल्लेबाज दिनेश कार्तिक ने एशिया कप में तीन मुकाबले खेले लेकिन इस टूर्नामेंट में उन्होंने बल्लेबाजी करते हुए सिर्फ एक गेंद का सामना किया। सुपर 4 में पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ हुए अहम मैचों में कार्तिक को ड्रॉप करके ऋषभ पंत को प्लेइंग XI का हिस्सा बनाया गया। इसके पीछे की मुख्य वजह यह रही थी कि टीम को मिडिल ऑर्डर में एक बाएं हाथ के बल्लेबाज की जरूरत थी। लेकिन पंत मिले मौकों का फ़ायदा उठा पाने में नाकाम रहे।

कार्तिक का फॉर्म पिछले कुछ समय से शानदार रहा है और उन्होंने हाल में अंतिम की ओवरों में तेजी से रन भी बनाये थे। ऐसे में अगर पंत की जगह उन्हें ज्यादा मौके मिले होते तो यह भारतीय टीम के लिए प्लस पॉइंट हो सकता था।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar