Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

3 भारतीय खिलाड़ी जिनका वनडे करियर IPL 2018 में बुरे प्रदर्शन के बाद शायद ख़त्म हो चुका है

19 Jun 2018, 06:55 IST
आईपीएल 2018 शानदार तरीके से समाप्त हुआ, इस सीज़न का लुत्फ़ हर क्रिकेट फ़ैंस ने बख़ूबी उठाया। इस साल का हर टीम के बीच मुक़ाबला बेहद कड़ा था और हमें इस साल कई कांटे की टक्कर और नज़दीकी मुक़ाबले देखने को मिले। इंडियन प्रीमियर लीग खिलाड़ियों के लिए अंतरराष्ट्रीय करियर की सीढ़ी की तरह है। यहां उन्हें अपने हुनर को पेश करने का पूरा मौका मिलता है। वो राष्ट्रीय चयनकर्ताओं के नज़र में आते हैं और टीम इंडिया में शामिल होने के अपने दावे को मज़बूती देते हैं।

इस साल के आईपीएल में श्रेयष अय्यर, ऋषभ पंत, शुबमन गिल, पृथ्वी शॉ, संजू सैमसन ने शानदार खेल का प्रदर्शन किया है। इसकी वजह से टीम इंडिया के सीनियर खिलाड़ियों पर अनदेखा दबाव बन गया है। कई सीनियर खिलाड़ी पिछले कुछ सालों से अच्छे फ़ॉम में नहीं हैं, ऐसे में उनके अंतरराष्ट्रीय करियर पर विराम लग सकता है। हम यहां उन 3 भारतीय खिलाड़ियों को लेकर चर्चा कर रहे हैं जिन्होंने आईपीएल 2018 में बेहद बुरा प्रदर्शन किया है और इसे देखते हुए ये कहना ग़लत नहीं होगा कि उनका वनडे करियर अब शायद ख़त्म हो चुका है।

#3 रविंद्र जडेजा




 

साल 2015 के आईसीसी वर्ल्ड कप में रविंद्र जडेजा टीम इंडिया के मुख्य स्पिन गेंदबाज़ थे। ऐसी उम्मीद की जा रही थी कि 2019 के वर्ल्ड कप में वो भारत के अहम खिलाड़ी होंगें। लेकिन पिछले 2 सालों में जडेजा का फ़ॉर्म बेहद ख़राब रहा है, वो अब इतने विकेट नहीं निकाल पाते हैं जितने कि पहले किया करते थे। वो गेंद के अलावा बल्ले से भी जद्दोजहद करते देखे गए हैं। उन्होंने ने टीम इंडिया की तरफ़ से आख़िरी वनडे मैच साल 2017 में खेला था। इस साल के आईपीएल में भी वो अपनी हुनर के हिसाब से प्रदर्शन नहीं कर पाए।

पिछले डेढ़ साल में टीम इंडिया में कई नए स्पिन गेंदबाज़ उभर कर आए हैं जो अपने दम पर टीम में जगह बनाने में कामयाब रहे। युज़वेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने लगभग 2019 वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया में अपनी जगह पक्की कर ली है। ऐसे में रविंद्र जडेजा को मौका मिलना मुश्किल है। वॉशिंग्टन सुंदर और मयंक मार्कंडेय जैसे युवा खिलाड़ियों ने आईपीएल में अपनी छाप छोड़ी है। रविचंद्रन अश्विन और अक्षर पटेल जैसे अनुभवी खिलाड़ियों ने भी फ़ॉर्म में वापसी की है। ऐसे हालात में जडेजा शायद ही दोबारा वनडे मैच खेल पाएं।
1 / 3 NEXT
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...