Create
Notifications

टीम इंडिया के 3 गुमनाम हीरो जिनको एशिया कप 2018 जिताने का श्रेय मिलना चाहिए

Enter ca
Modified 04 Oct 2018
टॉप 5 / टॉप 10

14 दिनों की जद्दोजहद के बाद टीम इंडिया ने एशिया कप का ख़िताब रिकॉर्ड 7वीं बार अपने नाम किया। भारत ने अपने अभियान की शुरुआत हांगकांग के ख़िलाफ़ की थी। पाकिस्तान के ख़िलाफ़ दोनों मैच में टीम इंडिया ने अपना दबदबा कायम रखा।

विराट कोहली की ग़ैरमौजूदगी में टीम के सभी खिलाड़ियों ने मिलकर भारत को एशिया कप का चैंपियन बनाया है। हांलाकि कुछ लोग ऐसे भी होते हैं जो पर्दे की पीछे रहकर टीम को ख़िताब जिताने में मदद करतेठी हैं। क वैसे ही एक चैंपियन टीम के पीछे कुछ बेहतरीन सपोर्ट स्टाफ़ की मदद होती है।

हम यहां टीम इंडिया के उन 3 सपोर्ट स्टाफ़ की चर्चा कर रहे हैं जिन्होंने भारत को एशिया कप 2018 का ख़िताब जिताने में मदद की है।


#1 पैट्रिक फ़रहार्ट : लीड फ़िज़ियोथेरेपिस्ट

Ent

भारतीय क्रिकेट टीम के मुख्य फ़िज़ियोथेरेपिस्ट पैट्रिक फ़रहार्ट टीम इंडिया के साथ काफ़ी वक़्त से जुड़े हुए हैं। वो ऑस्ट्रेलिया, किंग्स XI पंजाब, सिडनी सिक्सर्स जैसी कई नामी क्रिकेट टीम को अपनी सेवाएं दे चुके हैं। इस क्षेत्र में पैट्रिक को 22 साल से ज़्यादा का अनुभव हासिल है। वो हर खिलाड़ियों की सेहत पर नज़र बनाए रखते हैं।

भारतीय टीम पर ज़्यादा मैच खेलने का दबाव बना रहता है, ऐसे में टीम के फ़िज़ियोथेरेपिस्ट का रोल अहम हो जाता है। उन पर खिलाड़ियों के फ़िटनेस की ज़िम्मेदारी होती है। इसके अलावा पैट्रिक ये भी कोशिश करते हैं कि खिलाड़ियो का चोट से बचाव किया जा सके।

जब किसी खिलाड़ी को चोट लगती है तो फ़िज़ियो मैदान में तेज़ी से दौड़ते हुए आते हैं। जब एशिया कप 2018 के फ़ाइनल मैच में केदार जाधव के हैम्सट्रिंग में खिंचाव आ गया था। उस वक़्त पैट्रिक ने चोट की गंभीरता का पता लगाया और जाधव को मैदान छोड़ने की सलाह दी। भारत ये टूर्नामेंट जीता है तो इसमें पैट्रिक का भी योगदान है। 

1 / 3 NEXT
Published 04 Oct 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now