Create

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में भारतीय टीम के 3 सबसे कम स्कोर

भारतीय टीम एडिलेड में 36 रनों पर ऑल आउट हो गई थी
भारतीय टीम एडिलेड में 36 रनों पर ऑल आउट हो गई थी
Australia v India: 1st Test - Day 3
Australia v India: 1st Test - Day 3

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) टेस्ट इतिहास की सफल टीमों में से एक है। अभी तक टीम ने कई बेहतरीन टेस्ट मुकाबले जीते हैं और कई दिग्गज बल्लेबाज टेस्ट इतिहास में भारत की तरफ से हुए हैं। सुनील गावस्कर, गुंडप्पा विश्वनाथ, एकनाथ सोलकर, राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्मण और सचिन तेंदुलकर जैसे दिग्गज खिलाड़ी भारत ने वर्ल्ड क्रिकेट को दिए हैं।

आमतौर पर हमेशा से ही भारत को बल्लेबाजी का गढ़ माना जाता रहा है। भारतीय टीम हमेशा अपनी बैटिंग के लिए जानी जाती रही है और भारतीय खिलाड़ियों ने काफी रन भी टेस्ट क्रिकेट में बनाए हैं। अक्सर भारतीय टीम ने ज्यादातर मैच अपनी बैटिंग के दम पर ही जीते हैं। हालांकि कई बार ऐसा हुआ है कि भारतीय टीम की बल्लेबाजी भी बुरी तरह लड़खड़ा गई है।

टेस्ट इतिहास में कई बार भारतीय बल्लेबाज बुरी तरह फ्लॉप रहे हैं और कई बार तो ऐसा भी हुआ है कि टीम बेहद कम स्कोर पर ही आउट हो गई है। हम आपको इस आर्टिकल में भारतीय टीम के टेस्ट इतिहास के 3 सबसे कम स्कोर के बारे में बताएंगे। आइए जानते हैं कि कब-कब भारतीय टीम के नाम ये शर्मनाक रिकॉर्ड दर्ज हुआ है।

टेस्ट क्रिकेट इतिहास में भारतीय टीम के 3 सबसे कम स्कोर

3.ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ब्रिस्बेन में 58 रन - 1947

इस टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया ने पहले खेलते हुए 8 विकेट पर 382 रन बनाकर अपनी पारी घोषित कर दी। कप्तान डॉन ब्रैडमैन ने सबसे ज्यादा 185 रन बनाए। जवाब में भारतीय टीम अपनी पहली पारी में सिर्फ 58 रन पर ही सिमट गई। कप्तान लाला अमरनाथ ने सबसे ज्यादा 22 रन बनाए और इसके अलावा कोई भी भारतीय बल्लेबाज बड़ी पारी नहीं खेल सका। टीम के 8 बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक भी नहीं पहुंच पाए थे।

भारतीय टीम को ऑस्ट्रेलिया ने फॉलोआन खेलने को कहा और दूसरी पारी में भारतीय टीम एक बार फिर सिर्फ 98 रन पर सिमट गई। इस तरह से टीम को एक पारी और 226 रनों से हार का सामना करना पड़ा।

2.इंग्लैंड के खिलाफ लॉर्ड्स में 42 रन - 1974

इंग्लैंड  vs ऑस्ट्रेलिया
इंग्लैंड vs ऑस्ट्रेलिया

इस टेस्ट मैच में भी भारतीय टीम को एक पारी और 285 रनों से हार का सामना करना पड़ा था। इंग्लैंड ने अपनी पहली पारी में 629 रन बनाए थे। सलामी बल्लेबाज डेनिस एमिस ने 188 रनों की जबरदस्त पारी खेली थी और कप्तान माइक डेनेस ने भी शतक लगाया था। इसके अलावा टोनी ग्रेन ने भी 106 रन बनाए थे।

जवाब में भारतीय टीम अपनी पहली पारी में 302 रन ही बना पाई थी। फारुख इंजीनियर ने सबसे ज्यादा 86 रन बनाए थे। जवाब में फॉलोआन खेलते हुए दूसरी पारी में भी भारतीय टीम सिर्फ 42 रनों पर सिमट गई थी। भारतीय टीम की तरफ से एकनाथ सोलकर के अलावा कोई भी बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाया था। सोलकर 18 रन बनाकर नाबाद रहे थे।

1.ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एडिलेड में 36 रन - 2020

 भारतीय टीम सिर्फ 36 रन ही बना पाई थी
भारतीय टीम सिर्फ 36 रन ही बना पाई थी

ये भारतीय टीम का टेस्ट इतिहास में सबसे कम स्कोर है। पहली पारी में 244 रन बनाने के बाद भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलिया को सिर्फ 191 रन ही बनाने दिया और 50 रनों से ज्यादा की लीड ले ली। सबको लगा कि भारत इस मैच में आगे निकल गया है लेकिन तीसरे दिन के खेल की सुबह जो हुआ वो शायद बार-बार नहीं होता है।

देखते ही देखते भारतीय टीम ने सिर्फ 19 रन तक 6 विकेट गंवा दिए। ये टेस्ट इतिहास में पहली बार था जब भारतीय टीम ने सिर्फ 19 रन पर 6 विकेट गंवा दिए हों। भारतीय टीम का कोई भी बल्लेबाज दहाई के आंकड़े तक नहीं पहुंच पाया। मयंक अग्रवाल 9, चेतेश्वर पुजारा 0, कप्तान विराट कोहली 4, उप कप्तान अजिंक्य रहाणे 0 और ऋद्धिमान साहा ने 4 रन बनाए। भारतीय टीम का स्कोर जब 36/9 था, तभी मोहम्मद शमी चोटिल हो गए और उन्हें रिटायर्ड हर्ट होना पड़ा। इस तरह से भारतीय टीम सिर्फ 36 रन ही बना पाई।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment