टेस्ट क्रिकेट में भारत के 3 सबसे सफल गेंदबाज

हरभजन सिंह के नाम टेस्ट क्रिकेट में 417 विकेट हैं
हरभजन सिंह के नाम टेस्ट क्रिकेट में 417 विकेट हैं

भारतीय क्रिकेट में हमेशा बल्लेबाजों का बोलबाला रहा है। एक से बढ़कर एक बल्लेबाज भारतीय क्रिकेट में हुए हैं। सुनील गावस्कर, सचिन तेंदुलकर, राहुल द्रविड़, वीवीएस लक्ष्मण, सौरव गांगुली और विराट कोहली जैसे नाम ये बताने के लिए काफी हैं कि भारत बल्लेबाजों का गढ़ रहा है। लेकिन इन दिग्गज बल्लेबाजों के बीच में भारतीय गेंदबाजों ने भी अपनी एक अलग पहचान बनाई, खासकर टेस्ट क्रिकेट में।

कहा जाता है कि टेस्ट क्रिकेट में आप तभी जीत सकते हैं जब आपके गेंदबाज विपक्षी टीम के 20 विकेट निकालने में सक्षम हों। भारतीय क्रिकेट में कई ऐसे दिग्गज गेंदबाज हुए हैं जिन्होंने अपनी गेंदबाजी के बलबूते भारतीय टीम को टेस्ट मैचों में जीत दिलाई। कई भारतीय गेंदबाज रहे हैं जिन्होंने अपने खेल से वर्ल्ड क्रिकेट में अपना एक अलग मुकाम बनाया।

हम आपको इस आर्टिकल में उन 3 भारतीय गेंदबाजों के बारे में बताएंगे जिन्होंने जबरदस्त प्रदर्शन किया और टेस्ट क्रिकेट में भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट चटकाए। आइए जानते हैं कौन-कौन से गेंदबाज इस लिस्ट में हैं।

टेस्ट क्रिकेट में भारत के 3 सबसे सफल गेंदबाज

3. हरभजन सिंह-417 विकेट

हरभजन सिंह ने अपनी गेंदबाजी के दम पर कई मैच भारतीय टीम को जि
हरभजन सिंह ने अपनी गेंदबाजी के दम पर कई मैच भारतीय टीम को जि

हरभजन सिंह को टर्निंग पिच पर भी गुड लेंथ एरिया में गेंदबाजी करके अनियमित बाउंस हासिल करनें में महारत हासिल थी। 2000 के दौरान हरभजन सिंह भारत के चमकते हुए स्पिनर थे और निचले क्रम में अच्छी बल्लेबाजी भी करते थे। 2001 की बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में अनिल कुंबले के साथ मिलकर हरभजन सिंह ने खतरनाक गेंदबाजी की थी। इसके बाद उन्हें टर्बनेटर कहा जाने लगा था। टेस्ट क्रिकेट में उनके नाम 417 विकेट हैं।

2. कपिल देव-434 विकेट

कपिल देव
कपिल देव

एक ऐसे देश में जहां तेज गेंदबाजी का सूखा था वहां कपिल देव ने अपनी गेंदबाजी से एक शानदार उदाहरण पेश किया। पूर्व दिग्गज बल्लेबाज सुनील गावस्कर आज भी उन पुराने दिनों को याद करते हैं जब 1978 के फैसलाबाद टेस्ट में कपिल देव की गेंदबाजी से स्लिप में खड़े फील्डरों के चेहरे पर मुस्कान आ जाती थी।

कपिल देव नई गेंद से आउट स्विंग काफी अच्छी करते थे। भारत में पिचों को तेज गेंदबाजी के अनुकूल नहीं माना जाता है फिर कपिल देव का घरेलू और विदेशी रिकॉर्ड लगभग एक सा है। भारतीय पिचों पर जहां उन्होंने 219 विकेट लिए तो विदेशी पिचों पर वो 215 विकेट चटकाने में कामयाब रहे। जिस समय उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लिया उस समय वो भारतीय क्रिकेट के सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज थे।

1.अनिल कुंबले-619 विकेट

अनिल कुंबले
अनिल कुंबले

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व दिग्गज स्पिनर अनिल कुंबले इस लिस्ट में टॉप पर हैं। 619 विकेटों के साथ वो भारत के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। मुथैया मुरलीधरन, शेन वॉर्न और जेम्स एंडरसन के बाद सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में वो चौथे नंबर पर हैं। अपनी फ्लाइट से वो बड़े से बड़े बल्लेबाजों को चकमा दे देते थे।

उनके क्रिकेट करियर के दौरान भारतीय टीम ने जितने भी मैच जीते उनमें उन्होंने 18.75 की औसत से 288 विकेट चटकाए। तीसरी और चौथी पारी में वो काफी खतरनाक गेंदबाज साबित होते थे। उनको खेलना बहुत मुश्किल होता था। 90 के दशक में भारतीय टीम की सफलता में उनका काफी योगदान रहा।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment