Create

टेस्ट क्रिकेट में भारत के 3 सबसे सफल विकेटकीपर

एमएस धोनी एक लिस्ट में सबसे ऊपर हैं
एमएस धोनी एक लिस्ट में सबसे ऊपर हैं

टेस्ट क्रिकेट को क्रिकेट में असली परीक्षा माना जाता है। भारतीय टीम हो या ऑस्ट्रेलियाई टीम अथवा कोई भी अन्य टीम हो। वहां का खिलाड़ी उस टीम में आकर टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए आतुर रहता है। टेस्ट क्रिकेट में धाकड़ खेल की वजह से खिलाड़ी को नेम और फेम के अलावा वह सब कुछ मिलता है जिसकी कल्पना वह शुरुआत में करता है। टेस्ट क्रिकेट में लम्बे समय तक टिककर टीम में जगह बनाए रखना एक बड़ी चुनौती होती है। भारतीय टीम में भी कई खिलाड़ी ऐसे आए हैं जिन्होंने विकेट के पीछे और बल्लेबाजी दोनों में बेहतरीन काम किया। इस आर्टिकल में भी टेस्ट क्रिकेट के विकेटकीपरों की बात करते हुए भारत के धाकड़ नामों की चर्चा की गई है।

वैसे तो टीम इंडिया में एक समय ऐसा था जब विकेट के पीछे स्थायी रूप से कोई खिलाड़ी फिट नहीं होता था। कुछ मैच खेलने के बाद उसे टीम से बाहर होना पड़ता था। इसके बाद कोई नया खिलाड़ी आता और फिर वही सिलसिला चलता रहता था। इस स्थिति के बाद भी भारतीय टीम में कुछ विकेटकीपर ऐसे रहे जिन्होंने नियमित रूप से टीम में जगह बनाई और विकेट के पीछे शिकार भी किये। भारत के तीन सफलतम विकेटकीपरों का जिक्र यहाँ किया गया है।

यह भी पढ़ें: अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 12 गेंद से कम खेलने पर मैन ऑफ़ द मैच बने 3 खिलाड़ी

टेस्ट क्रिकेट में भारत के 3 सफलतम विकेटकीपर

किरण मोरे

किरण मोरे ने भी अपना नाम यहाँ दर्ज कराया है
किरण मोरे ने भी अपना नाम यहाँ दर्ज कराया है

इस खिलाड़ी ने भारतीय टीम के लिए 1984 से 1993 तक टेस्ट क्रिकेट खेला। इस दौरान किरण मोरे ने 49 टेस्ट खेले। उन्होंने कुल 130 शिकार विकेट के पीछे किये। इनमें 110 कैच और 20 स्टंपिंग शामिल थे। उन्होंने 1285 रन भी बनाए। बल्लेबाजी में प्रदर्शन बढ़िया नहीं होने के कारण शायद उन्होंने ज्यादा टेस्ट मैच नहीं खेले।

सैयद किरमानी

सैयद किरमानी अपने जमाने के धाकड़ कीपर थे
सैयद किरमानी अपने जमाने के धाकड़ कीपर थे

सैयद किरमानी भारतीय टीम के दूसरे सबसे सफल विकेटकीपर रहे। टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने 1971 से लेकर 1982 तक खेला। इस दौरान किरमानी ने कुल 198 शिकार विकेट के पीछे किये। इनमें 160 कैच और 38 स्टम्पिंग किये। किरमानी ने भारतीय टीम के लिए कुल 88 मुकाबले खेले। विकेट के पीछे धाकड़ प्रदर्शन के लिए उन्हें जाना जाता था। बल्लेबाजी में उन्होंने 2 शतक जड़े।

महेंद्र सिंह धोनी

एम एस धोनी ने सबसे बेहतरीन कीपिंग का प्रदर्शन किया
एम एस धोनी ने सबसे बेहतरीन कीपिंग का प्रदर्शन किया

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी 2005 से लेकर 2014 तक टीम के लिए टेस्ट क्रिकेट खेले। इस दौरान धोनी ने कुल 294 शिकार किये। धोनी ने 256 कैच और 38 स्टंपिंग किये। भारत के सबसे सफल टेस्ट विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी रहे हैं। इसके अलावा धोनी वनडे में भी भारत के सबसे सफल विकेटकीपर रहे हैं।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment