3 खिलाड़ी जिन्हें वर्ल्ड कप 2019 से पहले भारतीय टीम में मौका मिलना चाहिए

Enter caption

वर्ल्ड कप 2019 को शुरू होने में अब बस कुछ महीनों का ही समय बाकी रह गया है। ऐसे में सभी टीमों ने विश्व कप के लिए तैयारियां जोरे से शुरू कर दी है। दो बार की विश्व विजेता (1983, 2011) रह चुकी भारतीय टीम की निगाहें इस बार तीसरा विश्वकप जीतने की होगी।

भारतीय टीम में मौजूदा समय में कई ऐसे खिलाड़ी है जिनपर टीम अक्सर निर्भर रहती है। हाल ही कुछ मैचों पर नज़र डालें तो ओपनिंग में टीम इंडिया काफी हद तक रोहित शर्मा और शिखर धवन पर निर्भर रहती है। इसके अलावा नंबर तीन पर अगर विराट फेल हो जाते हैं तो टीम इंडिया को मुकाबला जीतना काफी मुश्किल हो जाता है।

वर्तमान में कई ऐसे खिलाड़ी हैं जो टीम इंडिया की इस परेशानी को हल कर सकते हैं। हालांकि अभी तक उन्हें खुद को साबित करने के लिए ज्यादा मौके नहीं मिले हैं। हमारे ख्याल से अगर इन खिलाड़ियों को मौका मिलता है तो ये खिलाड़ी भारत को विश्व कप जीतने में अहम भूमिका निभा सकते हैं।

इसी कड़ी में आइए एक नज़र डालते हैं उन 3 खिलाड़ियों पर जिन्हें विश्वकप 2019 से पहले भारतीय टीम में मौका मिलना चाहिए।

श्रेयस अय्यर

Enter caption

इसमें कोई शक नहीं है कि श्रेयस अय्यर एक प्रतिभाशाली क्रिकेटर हैं। 24 साल के श्रेयस अय्यर को अभी उनके मौके नहीं जिसके वह हकदार हैं। भारत के लिए 6 वनडे मैच खेल चुके श्रेयस अय्यर 2 अर्धशतक की बदौलत 210 रन बना चुके हैं।

वर्तमान में टीम इंडिया में मध्यक्रम में एक ऐसे बल्लेबाज की जरूरत है कि स्ट्राइक को रोटेट कर सके और तेजी से रन बना सके। ऐसे में श्रेयस अय्यर उसमें बिल्कुल फिट बैठते हैं। ऑस्ट्रेलिया की टीम विश्वकप से पहले फरवरी में भारत का दौरा करेगी जहां उसे 5 वनडे मुकाबले खेलने हैं। टीम मैनेजमेंट चाहे तो इस सीरीज में श्रेयस अय्यर को एक मौका दे सकती है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

कुणाल पांड्या

Enter caption

कुणाल पांड्या ने आईपीएल में अपनी शानदार परफॉर्मेंस की बदौलत भारत की टी-20 टीम में अपनी जगह बनाई। भारत के लिए अभी तक 6 टी-20 मैच खेल चुके कुणाल पांड्या ने अपनी परफॉर्मेंस से सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है।

कुणाल पांड्या गेंदबाजी के साथ-साथ अच्छी बल्लेबाजी भी कर लेते हैं। कई मौके पर वह आईपीएल में अपनी टीम को जीत भी दिल चुके हैं। ऐसे में अगर वह भारतीय वनडे का टीम का हिस्सा बनते हैं तो निश्चित रूप से वह टीम की जीत में अहम भूमिका निभा सकते हैं। इसके अलावा रणजी ट्रॉफी में भी उनका प्रदर्शन शानदार रहा है।

कुणाल पांड्या ने फिलहाल तो भारत के लिए कोई वनडे मुकाबला नहीं खेला लेकिन अगर उन्हें विश्व कप से एक मौका मिलता है तो वह उसे भुनाने की कोशिश जरूर करेंगे।

मनीष पांडे

Enter caption

मनीष पांडे टीम इंडिया के ऐसे खिलाड़ी है जो अक्सर 15 सदस्यीय टीम में तो शामिल रहते हैं लेकिन अंतिम 11 में जगह नहीं बना पाते। साल 2015 में टीम इंडिया में डेब्यू करने के बाद मनीष पांडे अभी तक केवल 23 वनडे मैचों का ही हिस्सा रहे हैं।

इन 23 मुकाबलों की 18 पारियों में मनीष पांडे ने एक शतक और 2 अर्धशतक की बदौलत 440 रन बनाए हैं। टीम इंडिया से अंदर बाहर होने के कारण कहीं ना कहीं उनके मनोबल पर काफी असर पड़ता होगा। बल्लेबाजी के साथ साथ मनीष पांडे फील्डिंग में काफी शानदार हैं। अपनी शानदार फील्डिंग के चलते वह मैच में 15 से 20 रन रोकने में सफल होते हैं।

हमारे ख्याल से मनीष पांडे को विश्व कप 2019 से पहले एक मौका जरूर मिलना चाहिए। यह कहना गलत नहीं होगा कि मनीष पांडे विश्व कप में टीम इंडिया के लिए ट्रंप कार्ड साबित हो सकते हैं।

Quick Links

App download animated image Get the free App now