Create
Notifications

Asia Cup 2018: 3 कारणों की वजह से शायद भारत ख़िताब ना जीत पाए

Modified 07 Sep 2018
इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज़ में हार के बाद, भारतीय टीम को 15 सितंबर को शुरू होने वाले एशिया कप में भाग लेना है। यह टूर्नामेंट संयुक्त अरब अमीरात में खेला जाने वाला है। बीसीसीआई ने हाल ही में भारतीय टीम की घोषणा की जिसमें कप्तान विराट कोहली को आराम दिया गया है और टीम की कमान रोहित शर्मा के हाथों में सौंपी गई है। एशिया कप के लिए चुनी गई इस भारतीय टीम में युवा खिलाड़ियों को तरजीह दी गई है। अंबाती रायडू और केदार जाधव जैसे बल्लेबाज़ों की वापसी से मध्य-क्रम मज़बूत होगा। यद्यपि टीम युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का मिश्रण है, लेकिन बल्लेबाजी क्रम में कोहली द्वारा नंबर 3 पर छोड़े गए स्लॉट को भरना टीम के लिए चिंता का विषय हो सकता है। इस लेख में हम ऐसे 3 कारणों पर एक नज़र डालेंगे जिनकी वजह से भारतीय टीम संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले एशिया कप में शायद ख़िताब की रक्षा ना कर पाए: संयुक्त अरब अमीरात की अपरिचित परिस्थितियां भारत सरकार ने बहुराष्ट्रीय टूर्नामेंट के लिए बीसीसीआई से पाकिस्तान की मेज़बानी करने से इंकार कर दिया था, इसलिए टूर्नामेंट का स्थान बदलकर संयुक्त अरब अमीरात कर दिया गया था। लेकिन इससे भारतीय टीम के लिए परेशानी बढ़ेगी क्योंकि टीम के खिलाड़ी वहां की परिस्थितियों से परिचित नहीं हैं। जबकि पाकिस्तान संयुक्त अरब अमीरात में अपने सभी घरेलू मैच खेलता है। ऐसे में उन्हें यहां खेलने में कोई परेशानी नहीं होगी। एक तरह से पाकिस्तानी टीम के लिए यह घरेलू टूर्नामेंट होगा। टूर्नामेंट की शुरुआत के तीन दिन बाद भारत 18 सितंबर को अपना पहला मैच खेलेगा और इससे उन्हें दुबई की परिस्थितियों से तालमेल बैठाने का अवसर मिल सकता है।
1 / 3 NEXT
Published 07 Sep 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now