COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

भारत को 2019 विश्वकप तक इन तीन कारणों की वजह से धोनी के साथ की है जरुरत

28   //    26 Jul 2018, 10:49 IST
#2 उनका जाना टीम में उथल पुथल लायेगा


क्रिकेट के सबसे बड़े मेगा इवेंट के सिर्फ एक साल बाकी रहने के साथ एबी डिविलियर्स ने इस साल आईपीएल के अंत में एक चौंकाने वाले रिटायरमेंट की घोषणा कर दी। उनके अचानक संन्यास ने खेल के सभी तीन प्रारूपों में दक्षिण अफ़्रीकी सेटअप में भारी मात्रा में शून्य पैदा कर दिया है। उनकी अनुपस्थिति के बाद का परिणाम श्रीलंका के खिलाफ चल रही टेस्ट श्रृंखला में दिखाई दे सकता है। एबी डिविलियर्स जैसे खिलाड़ी को बदलना असंभव है और यही एमएसडी पर भी लागू होता है।

2014 में टेस्ट क्रिकेट से धोनी की सेवानिवृत्ति ने भारतीय टेस्ट टीम को बहुत प्रभावित नहीं किया है क्योंकि उनके उनके वनडे इतिहास की तुलना में उनके पास औसत टेस्ट रिकॉर्ड है। उनका जाना एक दक्षिण अफ्रीका की तरह ही भारतीय टीम में उथल पुथल पैदा करेगा।

धोनी की जगह लेने वाले व्यक्ति के पास भरने के लिए बड़ा स्थान होगा और ऐसे में उम्मीद का स्तर बहुत अधिक होगा। हर विफलता के अंत में हर कोई उस व्यक्ति के साथ धोनी की तुलना करेगा। इसके अलावा, विश्व कप से पहले अपने महत्वता को साबित करने के लिए उस खिलाड़ी के पास केवल 15-20 मैच होंगे। किसी भी क्रिकेटर के लिए हर किसी को संतुष्ट करना और इतने कम अवधि के भीतर असाधारण रूप से अच्छा प्रदर्शन करना असंभव है।
PREVIOUS 2 / 3 NEXT
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...