COOKIE CONSENT
Create
Notifications
Favorites Edit

3 वजहों से ऋषभ पंत को टेस्ट विकेटकीपर के तौर पर टीम इंडिया में तरजीह दी जानी चाहिए

114   //    12 Sep 2018, 11:13 IST

ऋषभ पंत मौजूदा दौर के बेहरीन युवा बल्लेबाज़ों में से एक हैं। उनका अब तक का प्रथम श्रेणी करियर काफ़ी कामयाब रहा है, यही वजह है कि उन्हें टीम इंडिया का टेस्ट कैप दिया गया है। हांलाकि शुरुआत की 5 पारियों में वो कुछ कमाल नहीं कर पाए, लेकिन 5वें टेस्ट में पंत ने शानदार शतक लगाकर अपने इरादे ज़ाहिर कर दिए हैं। अब जब पुराने विकेटकीपर ऋद्धिमान साहा जब चोट से उबर जाएंगे, तब चयनकर्ताओं को पंत और साहा के बीच एक को चुनना होगा। उम्मीद है कि चयनकर्ता टीम इंडिया के भविष्य को लेकर एक सही विकेटकीपर को चुनेंगे।

हम यहां उन 3 वजहों को लेकर चर्चा कर रहे हैं जो ये बताते हैं कि ऋषभ पंत को टेस्ट क्रिकेट में लंबे वक़्त तक मौका दिया जाना चाहिए।

#3. स्टंप के पीछ पंत काफ़ी कमाल के हैं



टीम इंडिया में ऋद्धिमान साहा को मध्यम दर्जे की बल्लेबाज़ी के बाद भी इसलिए मौका दिया जा रहा था क्योंकि वो बतौर विकेटकीपर अच्छा प्रदर्शन कर रहे थे। साहा ने स्टंप के पीछे काफ़ी कामयाबी हासिल की है। ऋषभ पंत को अभी ख़ुद को साबित करना है लेकिन इंग्लैंड के हालातों में वो काफ़ी अच्छी विकेटकीपिंग करते हुए देखे गए हैं। अपने डेब्यू टेस्ट मैच में उन्होंने 5 कैच लपके हैं। डेब्यू टेस्ट में ऐसा करने वाले वो भारत के चौथे विकेटकीपर हैं। उन्होंने स्टंप के पीछे कई रन बचाए हैं। वो टेस्ट क्रिकेट में लंबे वक़्त के लिए विकेटकीपिंग करने को लेकर काफ़ी सहज दिखे। इसकी वजह ये है कि उन्होंने प्रथम श्रेणी मैच में अच्छा वक़्त बिताया है।

1 / 3 NEXT
Fetching more content...