Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

3 वजहों से ऋषभ पंत को टेस्ट विकेटकीपर के तौर पर टीम इंडिया में तरजीह दी जानी चाहिए

Published 12 Sep 2018, 11:13 IST
12 Sep 2018, 11:13 IST
#1. पंत के पास ख़ुद को साबित करने के लिए अभी काफ़ी वक़्त है



ऋषभ पंत की उम्र अभी 20 साल की हैं, वहीं दूसरी तरह साहा और दिनेश कार्तिक 33 साल के हो चुके हैं। पंत इन दोनों अनुभवी खिलाड़ियों से 13 साल छोटे हैं। अगर पंत को ज़्यादा मेहनत की गई तो वो लंबे वक़्त तक टीम इंडिया के शानदार विकेटकीपर बन सकते हैं। साहा और कार्तिक 3 से 4 साल में संन्यास ले सकते हैं, वहीं पंत के पास अभी काफ़ी वक़्त है। टीम के कप्तान और कोच के लिए ये ज़रूरी है कि वो पंत को एक बेहतर खिलाड़ी बनाए जो अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भारत का नाम ऊंचा कर सके। अगर पंत को थोड़ा अनुभव हासिल हो जाए तो वो शायद टीम इंडिया के अगले धोनी बन सकते हैं।

लेखक- संजय प्रदीप

अनुवादक- शारिक़ुल होदा

PREVIOUS 3 / 3
Modified 20 Dec 2019, 18:48 IST
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...